आत्महत्या का प्रयास करने वाले तेलंगाना के प्रशंसक नागुलु की मौत, अंतिम संस्कार आज

nagulu-died-who-attempted-suicide-in-front-telangana-assembly - Sakshi Samachar

नागुलु तेलंगाना आंदोलन में सक्रिय रूप से भाग लिया

तेलंगाना सरकार से मदद करने की परिवार की अपील

हैदराबाद : तेलंगाना में आने के बाद उसके साथ अन्याय होने का आरोप लगाते हुए रवींद्र भारती के पास आत्महत्या का प्रयास कर चुके बैकेलि नागुलु (55) की शनिवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। सैफाबाद पुलिस के अनुसार, इस महीने की 10 तारीख को नागुलु ने रवींद्र भारती के सामने शरीर पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली थी।

पुलिस ने तुरंत घायल नागुलु को इलाज के लिए उस्मानिया अस्पताल में भर्ती करवाया। अस्पताल में प्लास्टिक सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ नागप्रसाद ने बताया कि 62 प्रतिशत जले हुए पीड़िता का शरीश इलाज के लिए सहयोग नहीं किया है। इसके चलते उसकी मौत हो गई है।

आपको बता दें कि महबूबनगर जिले के कडताल निवासी नागुलु तेलंगाना का प्रशंसक है। नागुलु के परिवार के सदस्यों ने यह भी बताया कि नागुलु तेलंगाना आंदोलन के दौरान जहां कहीं पर बैठक, समारोह और आंदोलन होता, तो वह सक्रिय रूप से भाग लेता था। उसे पत्नी स्वरूपा, बेटी स्नेहलता और बेटा राकेश कुमार संतान हैं।

संबंधित खबर :

रवींद्र भारती के पास व्यक्ति ने खुद पर पेट्रोल डालकर लगाई आग, अस्पताल में भर्ती

नागुलु के दोनों बच्चे डिग्री दूसरे साल की पढ़ाई कर रहे हैं। उसका परिवार बंडलागुड़ा स्थित राजीव गृहकल्पा में रहता है। जबकि नागुलु बंजारा हिल्स रोड नंबर 2 पर एमवी टावर्स में चौकीदार के रूप में काम कर रहा था।

इस अवसर पर स्वरूपा ने कहा, "मेरा पति तेलंगाना आंदोलन में सक्रिय रूप से भाग लिया था। आग में जलते हुए भी जय तेलंगाना और जय केसीआर के नारे लगाये हैं। अब मेरा पति हमें छोड़कर चला गया है। उनकी मौत हमारे लिए क्षति है। नागुलु के पार्थिव शव को सबसे पहले कीसरा शहीद स्तूप के पास लेकर जाएंगे और वहां से बंडलागुड़ा लाया जाएगा। रविवार को अंतिम संस्कार किया जाएगा। मेरे पति की इच्छा के अनुसार तेलंगाना सरकार हमारे बच्चों को नौकरी दें और हमारी मदद करें।"

Advertisement
Back to Top