हाईकोर्ट ने KCR सरकार को फिर लगाई फटकार, पूछा-इन अस्पतालों के खिलाफ क्यों नहीं हुई कार्रवाई

High Court Slams Telangana Govt Over covid-19 cases and Private Hospitals - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना में कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न परिस्थिति पर सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को एक बार फिर फटकार लगाई है। कोर्ट ने पहले उसके द्वारा दिए गए आदेशों का पालन नहीं किए जाने को लेकर कड़ा असंतोष व्यक्त किया और पूछा कि कोरोना इलाज के लिए मनमाने ढंग से फीस वसूल रहे निजी अस्पतालों के खिलाफ क्यों कार्रवाई नहीं की जा रही है। 

वीडियो कांफ्रेन्स के जरिए सुनवाई में पेश हुए मुख्य सचिव सोमेश कुमार ने हाईकोर्ट को कोरोना से जुड़ा एफिडेविट सौंपी। हाईकोर्ट ने मुख्य सचिव से पूछा कि क्या इससे पहले दिए गए आदेशों पर अमल हो रहा है तो सोमेश कुमार ने बताया कि राज्य में पहले के मुकाबले अधिक कोरोना टेस्ट किए जा रहे हैं।

उन्होंने जब बताया कि अब तक 50 निजी अस्पतालों को नोटिस जारी किया जा चुका है तो अदालत ने उनसे पूछा कि बाकी अस्पतालों को लेकर सरकार की राय क्या है? अदालत ने यह भी पूछा कि बसवतारकम, अपोलो जैसे अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की गई है।  इसपर मुख्य सचिव ने अदालत को बताया कि हाईकोर्ट के आदेशानुसार पूर्ण विवरण के साथ जल्द ही बुलेटिन जारी की जाएगी।

इस बीच, राज्यभर में 8 हजार फील्ड असिस्टेंट्स को हटाए जाने को चुनौती देते  हुए हाईकोर्ट में एक और याचिका दाखिल हुई है। पिछले  चार महीने से वेतन दिए बिना कर्मचारियों को हटाए जाने को चुनौती देते हुए कर्मचारियों ने यह याचिका दाखिल की है। गौरतलब है कि राज्य में नेशनल रूरल एम्पलाइमेंट गारंटी स्कीम 2005 एक्ट के तहत काम कर रहे फील्ड असिस्टेंट्स को नौकरी से हटा दिया गया है। याचिकाकर्ताओं ने अदलात से उनका बकाया वेतन के भुगतान के लिए सरकार को आदेश देने की अपील की है और इसपर सुनवाई हो रही है।

इसे भी पढ़ेे : 

श्रीधर बाबू ने तेलंगाना सरकार को किया सवाल, कहा-कौन सा खिताब मिला जरा लोगों को बताएं

Related Tweets
Advertisement
Back to Top