आग से झुलसे मासूम ने अस्पताल में तोड़ा दम, आरोपी पिता गिरफ्तार

Fire scorched child dies in hospital Hyderabad police arrested accused father - Sakshi Samachar

पढ़ाई न करने से नाराज था पिता

पिता ने बच्चे को टरपेंटाइन ऑयल से आग लगाई

हैदराबाद : केपीएचबी थाना इलाके में पढ़ाई पर ध्यान न देने से नाराज एक पिता ने अपने ही बच्चे पर टरपेंटाइन ऑयल का डाल कर आग (Fire) लगा दी। हादसे में गंभीर रूप से झुलसे 13 साल के बच्चे रतलावत चरण की देर रात हैदराबाद (Hyderabad) के गांधी अस्पताल (Gandhi Hospital) में इलाज के दौरान मौत हो गई। मामले में पुलिस ने चरण के पिता रतलावत बालू को गिरफ्तार कर लिया है। 

पुलिस ने बताया कि मूलत: जोन्नलावाड़ा, नागरकर्नूल के रहने वाले रतलावत बालू व सोनी दंपत्ति काफी सालों पहले रोजगार की तलाश में हैदराबाद आ गए थे। दोनों केपीएचबी कॉलोनी के एक सरकारी स्कूल के पास झोपड़ी में रह रहे थे। सोनी स्थानीय सरकारी स्कूल में आया के रूप में काम कर रही थी और उसका बेटा रतलावत चरण उसी स्कूल में छठी क्लास में पढ़ाई कर रहा है। पेशे से पेंटर बालू को शराब पीने की आदत थी। अक्सर वो नशे में घर लौटकर सोनी और चरण से झगड़ा करता था। 

पढ़ाई न करने से नाराज था पिता
कोरोना संक्रमण के कराण चरण घर पर ही स्मार्ट फोन के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई क्लास से पढ़ाई कर रहा था। कुछ दिन से वो ऑनलाइन कक्षाओं में भाग नहीं ले रहा था। इस कारण बालू उसे कई बार फटकार चुका था। ऑनलाइन क्लास में हिस्सा ने लेकर वो ज्यादातर समय टीवी देखने में बिताने के कारण बालू अपने बेटे से काफी नाराज था। 

बीते 17 जनवरी की रात को नशे में लौटे बालू को चरण को टीवी देखते हुए देखकर गुस्सा शांत नहीं हुआ और उसने पेंटिंग के लिए उपयोग में लाया जाने वाला टरपेंटाइन ऑयल चरण पर फेंक दिया और माचिस डालकर आग लगा दी। आग की लपटों में घिरा चरण चिल्लाता हुआ झोपड़ी से बाहर निकल गया और पास के ही गड्ढे में गिर गया। 

बच्चे की आवाज सुनकर पास-पड़ोस के लोगों ने पानी डालकर आग बुझाई और उसे एंबुलेंस के जरिए गांधी अस्पताल भेज दिया। लेकिन तब तक आग से बच्चे का शरीर 93 फीसदी झुलस चुका था। गुरुवार रात बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलसि ने पहले हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया था। बच्चे चरण की मौत के बाद इसे आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया गया। 

Related Tweets
Advertisement
Back to Top