गांधी अस्पताल में कोविड-19 के मरीजों को मिल रहा बेहतर भोजन, ये है डाइट चार्ट

Corona Patients Diet In Gandhi Hospital of Hyderabad - Sakshi Samachar

कोरोना मरीज को दवा के साथ मानसिक तनाव भी दूर

जनरल मेडिसिन विभाग की देखरेख में मरीजों का इलाज

हैदराबाद : गांधी अस्पताल में कोरोना वायरस संक्रमितों की बहुत ही अच्छी देखभाल की जा रही है। कोविड-19 प्रभावित व्यक्ति के स्वास्थ में जल्द से जल्द सुधार के लिए दावा के साथ साथ मानसिक तनाव को भी दूर किया जा रहा है। गांधी अस्पताल के कोरोना नोडल प्रभारी और जनरल मेडिसिन विभाग के प्रमुख डॉ राजाराव ने मीडिया से यह बात कही। 

उन्होंने आगे कहा कि अस्पताल आने वालों में अधिकतर लोग खांसी, सर्दी और बुखार के लक्षण के मरीज हैं। इनमें से केवल 20 फीसदी मरीज ही कोरोना वायरस से सक्रमित हैं। इनमें से 5 फीसदी मरीजों को आईसीयू में इलाज किया जा रहा है। दो फीसदी मरीजों को मात्र वेंटिलेटर में इलाज हो रहा है। 15 से 20 फीसदी मरीजों को प्रोटोकॉल ट्रीटमेंट की जरूरत पड़ रही है।   

उन्होंने आगे बताया कि सरकार ने गांधी अस्पताल को पूरी तरह से कोरोना नोडल सेंटर घोषित किया है। अस्पताल में आईसीयू में 500 बेड्स और आइसोलेशन वार्डों में 1000 बेड्स हैं। मरीजों का इलाज जनरल मेडिसिन विभाग की देखरेख में किया जा रहा है।  

यह भी पढ़ें :

कोविड-19 अपडेट : तेलंगाना में कोरोना से पीड़ित लोगों की संख्या हो गई 453, मिले 49 नए मरीज

डॉ राजाराव ने आगे बताया कि मरीज के ठीक होने के लिए केवल दवा काफी नहीं है। पौष्टिक आहार भी मुख्य है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए संक्रमित व्यक्ति के इच्छानुसार सुबह नास्ता, चाय और टिफिन दिया जा रहा है। मरीज को नास्ते में इडली, चपाती, दोसा दिया जा रहा है, तो कुछ मरीज दूध और ब्रेड भी ले रहे हैं। मरीज क्या खाना पसंद करता है, उसे वही दिया जा रहा है। 

इसके साथ ही दोपहर के लंच में दो प्रकार की सब्जी, चावल, दही, अंडे और सांभर दिया जा रहा है। शाम को बादाम और काजू ड्राई फ्रूट और रात को डिनर मे चावल, चपाती दिया खाने में जाता है। मरीज को पीन के लिए चार बोतल मिनरल पानी भी दिया जा रहा है।

Advertisement
Back to Top