तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने EWS के लिए 10 फीसदी आरक्षण का किया ऐलान

CM KCR announces 10 per cent reservation for EWS - Sakshi Samachar

हैदराबाद: तेलंगाना (Telangana) के मुख्यमंत्री केसीआर (KCR) ने गुरुवार को आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (Economically Weaker Section- EWS) के लिए दस प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की है। ये आरक्षण नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में एडमिशन में भी मिलेगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि इस बारे में दो तीन दिनों के भीतर उच्च स्तरीय बैठक होनी है। जिसमें आरक्षण को लेकर अहम फैसला लिया जाएगा। साथ ही शासनादेश भी जारी कर दिया जाएगा। 

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि जो आरक्षण व्यवस्था लागू है उसके साथ छेड़छाड़ नहीं की जाएगी, आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए ये 10 फीसदी आरक्षण अतिरिक्त होगा। बता दें कि राज्य में पहले से ही 50 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था है। EWS आरक्षण लागू होने के बाद कुल 60 फीसदी सीटें आरक्षण के दायरे में आएंगी। 

मुसलमानों को 12% आरक्षण का क्या होगा? 

बता दें कि इससे पहले मुख्यमंत्री ने मुसलमानों को 12 फीसदी आरक्षण का वादा किया था। हालांकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के चलते इसे लागू नहीं किया जा सका। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने 50 फीसदी तक ही आरक्षण सीमा के निर्धारण संबंधी आदेश दिया था। 

वहीं बॉम्बे हाईकोर्ट के हालिया निर्णय के आलोक में राज्य सरकार को 50 फीसदी से अधिक आरक्षण देने को लेकर कुछ हद तक छूट मिली है। इसी सिलसिले में तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने एक बार फिर राज्य में 60 फीसदी सीटें आरक्षित करने को लेकर ऐलान किया है। अब देखना है कि उनके इस फैसले पर मुसलमानों की क्या प्रतिक्रिया मिलती है, जिन्हें पहले ही 12 फीसदी आरक्षण देने का केसीआर ने वादा किया था। अगर EWS को 10 फीसदी आरक्षण केसीआर ने दिया, तो लंबे समय से 12 फीसदी आरक्षण की आस लगाए बैठे मुसलमानों को बड़ा झटका लगेगा। ये जरूर है कि EWS आरक्षण के दायरे में तेलंगाना के गरीब मुसलमान भी आएंगे। 

Advertisement
Back to Top