जेल से बाहर आते ही अखिला प्रिया को चंद्रबाबू ने किया पहला फोन !

Bhuma Akhiila Priya Released from Chanchalguda Jail - Sakshi Samachar

भूमा अखिला प्रिया को जमानत मिली

चंद्रबाबू  ने फोन करके अखिला प्रिया को दी सांत्वना

अखिला प्रिया 18 दिन बाद चंचलगुड़ा जेल से शनिवार को रिहा

हैदराबाद : बोइनपल्ली अपहरण मामले में गिरफ्तार आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) की पूर्व मंत्री भूमा अखिला प्रिया (Bhuma Akhiila Priya) को जमानत मिल गई है। अखिला प्रिया 18 दिन बाद चंचलगुड़ा जेल से शनिवार को रिहा हुईं। 10-10 हजार रूपये के दो मुचलके व गारंटी के साथ सशर्त जमानत दी गई है।

चंचलगुड़ा जेल के बाहर बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जमा रही। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, जैसे ही अखिला प्रिया जेल से बाहर आई, उनके पास सबसे पहला फोन टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू का आया। चंद्रबाबू ने फोन करके अखिला प्रिया को सांत्वना दी और कहा कि सुख-दुख साथ रहता है। इन परिस्थितियों में हिम्मत रखना चाहिए।

जेल से बाहर आने के बाद अखिला प्रिया फिल्म नगर में वेंकटेश्वर स्वामी मंदिर में दर्शन किए। आपको बता दें कि अखिला प्रिया के पति भार्गव राम के अलावा साजिश में शामिल गुंटूर श्रीनु, जगत विख्यात रेड्डी, किरणमई, चंद्रहास फरार हैं।

क्या है पूरा मामला

बीते 5 जनवरी को प्रवीण राव और उनके दो भाइयों को हैदराबाद के बोइनपल्ली में भूमा और उसके साथियों ने किडनैप कर  लिया था। इसके अगले दिन पुलिस ने अखिला प्रिया को गिरफ्तार किया था। वह तभी से रिमांड में थी। कोर्ट ने उसे 3 दिनों के लिए पुलिस कस्टडी में सौंपने दिया था। इस दौरान पुलिस ने अखिलाप्रिया से काफी अहम जानकारियां मिली। 

पुलिस ने इंट्रोग्रेशन के दौरान उनसे कई सवाल किए मसलन कैसे अपहरण हुआ किडनैपिंग में कौन कौन शामिल था इस किडनैपिंग में किसकी अहम भूमिका है आरोपी कहा थे जैसे तमाम सवाल ने पुलिस ने अखिला से पूछे। इस मामले में पुलिस ने अखिलाप्रिया समेत कुल 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

बता दें कि पुलिस ने इस बात की जानकारी दी थी कि अखिला प्रिया और प्रवीण राव के बीच हैदराबाद के हाफीजपेट में 48 एकड़ भूमि को लेकर विवाद चल रहा था। इसी वजह से अखिला ने प्रवीण राव और उनके भाईयों का अपहरण करवाया था। किडनैपिंग की घटना को  कूकटपल्ली के लोढ़ा अपार्टमेंट में अंजाम दिया गया था। 

Advertisement
Back to Top