सरकार के उदासीन रुख के कारण निजी स्कूल जाने को मजबूर हैं विद्यार्थी : विक्रमार्क

Bhatti Vikramarka slams KCR Govt over Unemployment in Telangana - Sakshi Samachar

खम्मम : तेलंगाना कांग्रेस पार्टी ने केसीआर सरकार पर राज्य के सरकारी स्कूलों में हजारों की संख्या में रिक्त अध्यपक पदों की भर्ती नहीं करने का आरोप लगते हुए कहा कि अगर यही सिलसिला जारी रहा तो गरीब विद्यार्थियों की पढ़ाई खतरे में पड़ जाएगी। कांग्रेस विधायक दल के नेता भट्टि मल्लु विक्रमार्क ने कहा कि टीआरएस सरकार के उदासीन रुख की वजह से विद्यार्थियों को मजबूरी में निजी स्कूलों में जाना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि ऐसी समस्याओं के बारे में सवाल उठा रहे कांग्रेस नेताओं के खिलाफ सरकार बेबुनियाद मामले दर्ज करवा कर उन्हें डरा-धमका रही है। भट्टि विक्रमार्क ने यहां खम्मम जिले के वायरा शहर में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राज्य में अराजकता का बोलबाला देखने को मिल रहा है। 

मुख्यमंत्री केसीआर पर तीखा प्रहार करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि राज्य में लोकतांत्रिक पद्धति में हुए चुनाव में हारने से रोजगार खो चुकी अपनी बेटी कविता के दर्द को सीएम बर्दाश्त नहीं कर पाए और  उन्होंने बेटी को एमएलसी नियुक्त कर इस समस्या को दूर किया है। उन्होंने कहा कि टीआरएस सरकार के गलत रवैये के कारण बेरोजगार और युवा काफी हताश हैं और ऐसे में उनके बगावत पर उतरने से लोकतंत्र ही खतरे में पड़ने का खतरा है।

इसे भी पढ़ें : कृषि कानूनों के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित करें केसीआर : भट्टी विक्रमार्क

उसी तरह, कांग्रेस नेता ने सरकार से राज्य में रिक्त दो लाख पदों के साथ-साथ चुनाव से हर घर को एक नौकरी देने के आश्वासन के तहत भर्ती प्रक्रिया शुरू करने की मांग की। उन्होंने कहा कि ग्रैजुएट्स एमएलसी चुनाव के मद्देनजर सरकार के कुछ पदों की भर्ती की तैयारी करने की खबर है, लेकिन उन पदों की भर्ती होने तक उसपर भरोसा करना मुश्किल है। उन्होंने बताया कि इससे पहले 16 हजार कांस्टेबलों की भर्ती के बाद अभी तक उन्हें ट्रेनिंग के लिए तक नहीं भेजा गया है। 

Related Tweets
Advertisement
Back to Top