सांसद ओवैसी ने डॉ राहत इंदौरी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया, बोले- यह मेरा निजी नुकसान है

 Asaduddin Owaisi Expressed Deep Grief over Demise of  Dr Rahat Indouri - Sakshi Samachar

 राहत इंदौरी के निधन से सांसद असदुद्दीन ओवैसी स्तब्ध

अल्लाह इंदौरी को मगफिरत फरमाएं और उनकी कब्र को रौशन करें

हैदराबाद : एआईएमआईएम के अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने प्रसिद्ध शायर डॉ राहत इंदौरी (70) के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। ओवैसी ने ट्वीट पोस्ट में कहा कि मैं राहत इंदौरी के निधन से स्तब्ध हूं। उनका निधन मेरा निजी नुकसान है। अल्लाह इंदौरी को मगफिरत फरमाएं और उनकी कब्र को रौशन करें। इस अवसर पर ओवैसी ने शायर इंदोरी के 25 व 36 जनवरी की वह क्लिप भी शेयर की जिसमें उन्होंने अपने शायरी के जरिए केंद्र सरकार को निशाने पर लिया था।

उन्होंने कहा कि हैदराबाद में सीएए-एनआरसी के खिलाफ आयोजित मुशायरे में शिरकत करने पहुंचे थे। तब राहत इंदौरी ने केंद्र सरकार के विवादित नागरिक संशोधित अधिनियम के खिलाफ आवाज उठाई थी।

आपको बता दें कि राहत इंदौरी का इंदौर में मंगलवार को निधन हो गया। इंदौरी का छोटी खजरानी (इंदौर) कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए उनको दफनाया गया। अरबिंदो अस्‍पताल से ही उनके शव को एंबुलेंस के जरिए कब्रिस्‍तान लाया गया। वहां नमाज अदा की गई। चुनिंदा लोगों की मौजूदगी में उनकी अंत्‍येष्टि की गई। इसके साथ ही उनके ट्विटर राहत साहब को दिल का दौरा पड़ा और उनका निधन हो गया। उनके दोनों फेफड़ों में कोरोना का संक्रमण और किडनी में सूजन थी।

इससे पहले इंदौरी ने सुबह ट्वीट किया था कि कोविड के शुरुआती लक्षण दिखाई देने पर मेरा कोरोना टेस्ट किया गया। जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अरविंदो अस्पताल में भर्ती हूं। दुआ कीजिए जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं। एक और आग्रह है कि मुझे या घर के लोगों को फोन ना करें, मेरी खैरियत टि्वटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी। इस ट्वीट के बाद राहत इंदौरी के चाहने वाले जल्द से जल्द उनके स्वस्थ्य होने की दुआ के साथ मैसेज लिखने लगे। मगर इसी बीच उनके निधन की खबर आई।

राहत इंदौरी के निधन के बाद अरबिंदो अस्पताल का अहम बयान सामने आया। डॉ विनोद भंडारी ने कहा कि उन्हें दो बार दिल का दौरा पड़ा और उन्हें बचाया नहीं जा सका। कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके शरीर में 60 फीसद तक निमोनिया था। राहत इंदौरी मशहूर शायर थे, साथ ही वह बॉलीवुड के लिए भी कई गाने लिखे हैं। डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती किया गया था।

Advertisement
Back to Top