निजामाबाद के पॉल्ट्री फार्म में 1000 मुर्गियों की मौत, जांच के लिए भेजे गए सैंपल

1000 Chicken Died in Nizamabad Poultry Farm - Sakshi Samachar

फार्म के मालिक ने पशुपालन विभाग को दी सूचना

प्रारंभिक जांच में मुर्गियों में नहीं मिले बर्ड फ्लू के लक्षण

अधिकारियों ने कहा जांच रिपोर्ट के बाद होगा खुलासा

निजामाबाद : बुधवार को जिले के डिचपल्ली मंडल (Dichpally Mandal )के यनमपल्ली गांव में एक मुर्गी फार्म (Poultry Farm) में लगभग 1000 मुर्गियों की मौत (Chicken Death) हो गई। हालांकि पशुपालन विभाग (Animal Husbandry department) के अधिकारियों का कहना है कि बर्ड फ्लू (Bird Flu) के कारण मुर्गियों की मृत्यु की संभावना कम है, क्योंकि उनमें इस बीमारी के कोई भी लक्षण (Symptoms) नहीं पाए गए हैं।

पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. भरत ने कहा कि दुर्गा भवानी पोल्ट्री फार्म के मालिक रामचंदर गौड़ ने जंगल में एक गड्ढे में दफनाने से पहले मुर्गियों की मौत के बारे में अधिकारियों को सूचित किया। इसके बाद उन्होंने और अन्य विभाग के अधिकारियों ने पोल्ट्री फार्म का दौरा किया और मृत मुर्गियों और उनके खून के नमूने एकत्र किए।

मुर्गियों की मौत के कारणों का पता लगाने के लिए सैंपलों को परीक्षण के लिए हैदराबाद की लैब में भेज दिया। इस पोल्ट्री फार्म में 8,000 मुर्गियों का पालन किया जा रहा था, जिनमें से लगभग 5,000 मुर्गियों को दो दिन पहले शतवाहन हैचरी भेज दिया गया था। इसके बाद फार्म में 3,000 मुर्गियों बची थीं, जिसमें से लगभग 1,000 मुर्गियों की मृत्यु बुधवार को हो गई।

इसे भी पढ़ें : फोन पर बात-चीत के मामले में SC ने पूर्व जज को दिया हलफनामा दाखिल करने का निर्देश

वहीं पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. भरत ने बताया कि मुर्गियों की मौत बर्ड फ्लू के कारण हुई है, इसके बारे में अभी कुछ जानकारी उपलब्ध नहीं है, क्योंकि उनमें बर्ड फ्लू के सामान्य लक्षण नहीं मिले हैं। उन्होंने आगे कहा कि केवल टेस्ट रिपोर्ट आने बाद ही मौत के कारणों के बारे में कुछ बताया जा सकेगा। 

 

Advertisement
Back to Top