उत्तम कुमार रेड्डी का ऐलान, कहा- कृषि कानूनों को वापस लेने तक कांग्रेस का जारी रहेगा प्रदर्शन

Uttam Kumar Reddy Attacks On KCR Over Agriculture Law - Sakshi Samachar

केंद्र की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन

कांग्रेस की कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग

हैदराबाद : तेलंगाना (Telangana) कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी (Uttam Kumar Reddy) ने किसानों के समर्थेन में सूर्यपेट में पार्टी कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। उत्तम कुमार रेड्डी ने इस दौरान एक जनसभा को भी संबोधित किया। सूर्यपेट (Suryapet) के जिला मुख्यालय में कांग्रेस कमेटी ने केंद्र और राज्य की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ एक बैठक आयोजित की थी। इसके अलावा राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर एक बैठक का आयोजन किया गया जिसमें जन प्रतिनिधियों और वरिष्ठ नेताओं ने भाग लिया। 

उत्तम कुमार रेड्डी ने केंद्र से कृषि कानूनों (Agriculture Laws) को वापस लेने की मांग की और कहा कि किसान पिछले 45 दिनों से दिल्ली के पास विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन सरकार को किसानों की समस्याओं की परवाह नहीं है। उन्होंने कहा कि देश भर के किसान सरकार की नई नीति और कानूनों से प्रभावित होंगे। किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य से वंचित रखा गया है। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने कॉर्पोरेट क्षेत्र को लाभ पहुंचाने के लिए किसानों के हितों की अनदेखी की। 

उत्तम कुमार रेड्डी ने केसीआर पर किसानों के मुद्दों पर दोहरा मापदंड अपनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि संसद में कृषि कानूनों के विरोध का ढोंग किया गया और भारत बंद का समर्थन किया गया। दिल्ली में नरेंद्र मोदी से मिलने के बाद, मुख्यमंत्री की स्थिति बदल गई। उन्होंने कहा कि किसानों के मुद्दों पर यू-टर्न लेते हुए केसीआर ने तेलंगाना में केंद्रीय कानूनों को लागू करने का फैसला किया है। 

इसे भी पढ़ें :

KCR सरकार को झूठे क्रेडिट लेने की आदत लग गई है : उत्तम कुमार रेड्डी

कांग्रेस आलाकमान की गलतियों की वजह से तेलंगाना में कमोजर पड़ रही कांग्रेस : राजगोपाल रेड्डी

उत्तम कुमार रेड्डी ने विधानसभा का विशेष सत्र और केंद्रीय कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने की मांग की। उन्होंने कहा कि टीआरएस सरकार को राज्य में किसानों के खरीद केंद्रों का पुनर्वास करना चाहिए। सरकार ने हर गांव में फसल खरीद केंद्र बंद कर दिए हैं।

 उत्तम कुमार रेड्डी ने घोषणा की कि कांग्रेस पार्टी किसानों के समर्थन में अपना विरोध जारी रखेगी और राजभवन की घेराबंदी 15 जनवरी को होगी। उन्होंने देश भर के किसानों को आश्वासन दिया कि कांग्रेस पार्टी तब तक विरोध प्रदर्शन करेगी जब तक उनकी मांग पूरी नहीं हो जाती।

Advertisement
Back to Top