बकाया राशि और निधि के लिए केंद्र पर दबाव बनायेंगे तो KCR का समर्थन करेगी CPIM

Tammineni Veerabhadram Comments On pending fund  - Sakshi Samachar

राज्य विकास में सीपीआईएम का सहयोग 

केंद्र कई संस्थाओं का निजीकरण करना चाहती है

करीमनगर : सीपीएम के प्रदेश सचिव तम्मिनेनि वीरभद्रम ने कहा कि केंद्र से मिलनेवाली बकाया राशि और निधि को लेकर केसीआर केंद्र पर दबाव बनाते हैं तो पार्टी उनका समर्थन करेगी। उन्होंने कहा कि जीएसटी की वजर से राज्य के हजारों करोड़ रुपये राजस्व का नुकसान हुआ है।

करीमनगर में मीडिया से बातचीत करते हुए तम्मिनेनि ने कहा कि केंद्र राज्य को मिलनेवाली राशि का भुगतान शीघ्रता से नहीं कर रही है। इससे तेलंगाना के विकास पर असर हो रहा है। केंद्र के रवैये को लेकर सीपीएम के नेता ने आक्रोश व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि केंद्र ने निधि देने की बजाय सलाह दी है। सलाह के मुताबिक राज्य को केंद्र कर्ज लेने को कह रही है। इस तरह का केंद्र का व्यवहार शर्मनाक है।

तम्मिनेनि ने कहा कि केंद्र कई संस्थाओं का निजीकरण करना चाहती है। वह इस दिशा में कूटनीति अपना रही है। वीरभद्रम ने केंद्र की कूटनीति का विरोध करने के लिए सीपीएम को सहयोग देने की बात कही। सीपीएम के प्रदेश सचिव ने कहा कि सीएम केसीआर ने कृषि क्षेत्र में विकास को लेकर कारगर योजनाएं जारी की है। इन योजनाओं में रैतु बंधू और रैतु बीमा योजनाएं हैं। उन्होंने कहा कि नए राजस्व कानून में कुछ खामियां हो सकती हैं, इन खामियों को दूर करना चाहिए। साथ एलआरएस के निर्णय में कुछ समस्याएं हैं, उनका भी समाधान करना चाहिए। 
 

Related Tweets
Advertisement
Back to Top