शब्बीर अली ने सचिवालय में मस्जिद और मंदिर ढ़हाने का विरोध किया

Shabbir Ali alleges demolition of mosques and temple in Telangana Secretariat - Sakshi Samachar

मस्जिद और एक मंदिर को ढ़हाना गैरकानूनी है

केसीआर की व्यक्तिगत संपत्ति  नहीं है

हैदराबाद : तेलंगाना कांग्रेस के पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ नेता मोहम्मद अली शब्बीर ने कहा कि सचिवालय कॉम्पलेक्स में बने प्रार्थना स्थलों को ढ़हाने के विरोध में कांग्रेस राज्य स्तर पर धरना प्रदर्शन करेगी। उन्होंने कहा कि हाल ही में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की  गांधी भवन में हुई बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया। 

पूर्व मंत्री ने कहा  कि तेलंगाना सचिवालय कॉम्पलेक्स में दो मस्जिद और एक मंदिर को ढ़हाना गैरकानूनी है। सभी जाति-धर्म की के मनोभावनाओं को ठेस नहीं पहुंचाई जा सकती। उन्होंने कहा कि सचिवालय परिसर में बने मस्जिद और मंदिर मुख्यमंत्री केसीआर की व्यक्तिगत संपत्ति  नहीं है। मुख्यमंत्री को सबक सिखाना जरूरी है। 

शब्बीर अली ने कहा कि सचिवालय कॉम्पलेक्स बने प्रार्थना स्थल ढ़हाने के विरोध में कांग्रेस काले मास्क और काले फीते लगा कर सरकार के रवैया का विरोध करेगी। इस प्रदर्शन में बड़े पैमाने पर शामिल होने की कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने अपील की है। बैठक के बाद कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने केसीआर का प्रतीकात्मक पूतला फूंका। विरोध प्रदर्शन में हैदराबाद सब कांग्रेस कमेटी के मायनारिटी विभाग के चेयरमैन समीर अली उल्लाह, टीपीसीसी उपाध्यक्ष जाफर जाविद, प्रतिनिधि सय्यद निजामुद्दिन, टीपीसीसी के महासचिव एसके अफजलुद्दिन,नामपल्ली निर्वाचन क्षेत्र के प्रभारी फिरोज खान शामिल थे। 

Loading...
Related Tweets
Advertisement
Back to Top