तेलंगाना में कोरोना वायरस के तीसरे स्टेज में पहुंचने से पहले ही सरकार एक्टिव, उठाए बड़े कदम

one More-coronavirus-positive-case-in-Telangana - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना में एक और कोरोना वायरस का नया मामला सामने आया है। इसके चलते तेलंगाना में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 45 हो गई है। नया मामला सिकंदराबाद के बौद्धनगर का है, जहां 45 साल के एक व्यक्ति में कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया है। गुरुवार को एक ही दिन में 4 कोरोना वायरस संक्रमितों के नये मामले सामने आये हैं। साथ ही 107 लोगों की जांच की गई है। 

दूसरी ओर स्वास्थ्य मंत्री ईटेला राजेंदर ने अधिकारियों के बैठक की और कोरोन वायरस के तीसरे चरण में पहुंचने पर उठाये जाने वाले कदमों के बारे में समीक्षा बैठक की। उन्होंने अधिकारियों को आदेश दिया कि अगर कोरोना वायरस तीसरे चरण में पहुंच जाता है तो गांधी अस्पताल को पूरी तरह से कोरोना वायरस अस्पताल के रूप में तब्दील किया जाये। 

मंत्री ने बताया कि गांधी अस्पताल में किये जाने वाले ऑपरेशनों को इस समय उस्मानिया अस्पताल में किया जा रहा है। इस बात को ध्यान में रखते हुए महीने के अंत तक गांधी अस्पताल के सभी विभागों को उस्मानिया अस्पताल में स्थानांतरित किये जाने के भी निर्देश दिये।

यह भी पढ़ें :

कोरोना के खिलाफ छिड़ी जंग में TRS के सभी नेता शामिल, 500 करोड़ रुपये देने का लिया निर्णय

साथ ही मंत्री ने किंग कोठी अस्पताल को भी कोरोना वायरस संक्रमितों के इलाज के लिए तैयार रखने का भी डॉयरेक्टर ऑफ मेडिकल एज्युकेशन (सीएमई) रमेश रेड्डी को आदेश दिया है।

ईटेला ने यह भी बताया कि यदि जरूरत पड़ी तो कोरोना वायरस से निपटने के लिए निजी मेडिकल कॉलेज और निजी अस्पतालों की सेवाओं का उपयोग किया जाएगा। इसके लिए कालोजी स्वास्थ्य विश्वविद्यालय के कुलपति करुणाकर रेड्डी के नेतृत्व में एक कमेटी काम करेगी। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस तीसरे चरण में पहुंच न पाये इसके लिए सरकार आवश्यक कदम उठा रही है। 

उन्होंने जनता से आग्रह किया कि वे लॉकडाउन का पालन करें। मंत्री ने अस्पतालों में काम करने वाले किसी भी कर्मचारी को किसी भी हाल में छुट्टी मंजूर नहीं करने के आदेश दिये हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि कोरोना वायरस चिकित्सा के लिए जो उपकरण चाहिए उसकी खरीदी कर लें। 

Advertisement
Back to Top