गिरगिट की तरह रंग बदल रहे कांग्रेस के नेता, हां में हां मिलानेवाले अब कर रहे विरोध

karne prabhakar and guvvala balaraju fire on congress about pothireddypadu project - Sakshi Samachar

कांग्रेस लगा रही बेबुनियाद आरोप

टीआरएस धो रही कांग्रेस के पाप

हैदराबाद : टीआरएस ने पोतिरेड्डीपाडू से कृष्णा नदी के पानी का प्रवाह छोड़ने के बारे में पहले से विरोध किया है। बीते दिनों नदी के पानी प्रवाह छोड़ने के विषय में हां करनेवाले अब उसका विरोध कर रहे हैं। पानी के बंटवारे को लेकर ब्रिजेश कुमार समिति ने संयुक्त आंध्र प्रदेश के समय तेलंगाना के साथ सौतेला व्यवहार किया। 

तेलंगाना विधानसभा में सरकार के सचेतक कर्ने प्रभाकर ने कहा कि कांग्रेस के कुछ नेता आंध्र प्रदेश को छोड़ कर्नाटक के साथ पानी बंटवारे को लेकर विवाद उभरने की गलत जानकारी लोगों में फैला रहे हैं। ऐसा कर वे सरकार के खिलाफ बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। पानी के बंटवारे को लेकर कांग्रेस ने जो पाप किये हैं, उन पापों को टीआरआस के नेतृत्व में बनी सरकार धोने का प्रयास कर रही है। 

कर्ने प्रभाकर ने कहा कि कृष्णा नदी के पानी का उपयोग करने के संदर्भ में आंध्र प्रदेश सरकार ने शासनादेश जारी  किया है। उस शासनादेश को स्थगित करने के लिए तेलंगाना की सरकार सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी। 
 
तेलंगाना सरकार के सचेतक गु्व्वाला बालराजू ने कहा कि राज्य का विकास गिरवी रखनेवाले कांग्रेस के नेता अपना वजूद खोते जा रहे हैं। उनकी राजनीति राज्य में न के बराबर होती जा रही है। उन्होंने कहा कि कृष्णा बेसिन में किसी प्रकार का अधिकार नहीं होने के बावजूद पानी को चोरी होती रही। उस समय कांग्रेस के नेता चुप्पी साधे हुए थे। 

बालराजू ने कहा कि मुख्यमंत्री केसीआर परियोजनाओं और जल बंटवारे का काम विश्वास के साथ कर रहे हैं। उन पर हमें पूरा विश्वास है। उन पर संदेह व्यक्त करने की हमें कोई आवश्यकता नहीं है।  

Related Tweets
Advertisement
Back to Top