18 जनवरी को भारतीय जनता पार्टी में शामिल होंगे पूर्व मंत्री चंद्रशेखर, कांग्रेस से दे चुके हैं इस्तीफा

Dr A Chandrasekhar Will Join BJP on 18th January - Sakshi Samachar

विकाराबाद से पांच बार रह चुके हैं विधायक

टीडीपी के टिकट पर चार बार विजयी रहे

विकाराबाद : पूर्व मंत्री व विकाराबाद के पूर्व विधायक डॉ.ए. चंद्रशेखर ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी के पद और प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने का एलान कर दिया है। उन्होंने इस बाबत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एन. उत्तम कुमार रेड्डी को अपना इस्तीफा भेज दिया है।

उन्होंने कहा कि पार्टी में ईमानदार और समर्पित नेताओं की कोई पहचान नहीं है और पीठ में छुरा घोंपने वालों को प्राथमिकता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि वह शुरू से अनुशासन का पालन करते रहे हैं और ऐसे में कांग्रेस पार्टी में वह खुद को ढाल नहीं पा रहे हैं। इस बीच, खबर मिली है कि डॉ. ए. चंद्रशेखर इस महीने की 18 तारीख को विकाराबाद में भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने वाले हैं।

1985 से 2008 के दौरान डॉ.चंद्रशेखर पांच बार विधायक चुने गए। चार बार टीडीपी और एक बार टीआरएस की टिकट पर विधायक बने। बाद में वह टीआरएस छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए और अब कांग्रेस से भी इस्तीफा दे दिया है।

गौरतलब है कि साल 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी की करारी हार के बाद से उसके कई नेता पार्टी छोड़कर सत्तारूढ़ टीआरएस और भाजपा में शामिल होने लगे हैं। पिछले दिनों कई नेता कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं।

विजयाशांति जैसे वरिष्ठ नेता भी कांग्रेस पार्टी छोड़ चुके हैं और हाल ही में नलगोंडा से कांग्रेस विधायक कोमटीरेड्डी राजगोपाल रेड्डी ने भी कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने का मन बनाया है। यही वजह है, तेलंगाना में कांग्रेस पार्टी की स्थिति दिनों-दिन कमजोर पड़ती जा रही है। दूसरी तरफ, तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के चयन को लेकर पार्टी में लंबे समय से चिंतन चल रहा है।

इसे भी पढ़ें :कांग्रेस आलाकमान की गलतियों की वजह से तेलंगाना में कमोजर पड़ रही कांग्रेस : राजगोपाल रेड्डी

कांग्रेस आलाकमान ने नागार्जुन सागर उपचुनाव के बाद तेलंगाना के लिए पार्टी के नए अध्यक्ष चुनने का फैसला किया है, लेकिन सूत्रों से मिल रही खबरों की मानें तो अध्यक्ष पद की होड़ में शामिल नेता पद नहीं मिलने की स्थिति में पार्टी छोड़कर किसी दूसरे राजनीतिक दल का दामन थामने की तैयारी में हैं।

Related Tweets
Advertisement
Back to Top