जीत से खुश नजर आए कोहली, रविंद्र जडेजा नहीं इस खिलाड़ी के प्रदर्शन को बताया खास

virat kohli happy after winning first odi match against australia - Sakshi Samachar

कैनबरा : भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 3 मैच की टी-20 सीरीज का पहला कैनबरा में खेला गया। पहले टी ट्वेंटी मुकाबले में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 11 रन से हरा दिया। वनडे सीरिज 2-1 से गंवाने के बाद पहला टी20 जीतने से भारत का आत्मविश्वास बढ़ा है। 

भारत ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 7 विकेट खोकर 161 रन बनाए। जवाब में आस्ट्रेलियाई टीम 20 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 150 रन ही बना सकी। मैच में भारतीय गेंदबाजों ने प्रभावी प्रदर्शन किया और ऑस्ट्रेलियाई टीम को अच्छी शुरुआत के बावजूद हार का सामना करना पड़ा। 

सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाने के बाद कप्तान विराट कोहली बेहद खुश नजर आए और उन्होंने स्पिनर युजवेंद्र चहल और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के प्रदर्शन को अहम करार दिया। बता दें कि कनकशन सब्सीटियूट के तौर पर खेलने वाले चहल ने मैच में जहां 4 ओवरों में 25 रन  देकर 3 तीन विकेट लिए वहीं पांड्या ने मुस्तैदी दिखाते हुए सलामी बल्लेबाज आरोन फिंच (35) का शानदार कैच लपका था। पांड्या ने यह कैच आठवें ओवर में चहल की गेंद पर ही पकड़ा था। फिंच के आउट होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई पारी लड़खड़ा गई थी।

अगली बार ऐसा नहीं हो 

विराट कोहली ने कहा कि मैच में युजवेंद्र चहल को शामिल करने की कोई योजना नहीं थी। कनकशन रिप्लेसमेंट एक अजीब चीज है। आज यह हमारे लिए काम कर गया। लेकिन हो सकता है कि अगली बार ऐसा नहीं हो। उन्होंने कहा कि वह (चहल) आया और उसने सचमुच काफी अच्छी गेंदबाजी की। पिच ने भी उसका साथ दिया। चहल ने प्रतिद्वंद्वियों को रोकने में शानदार जज्बा दिखाया। मुझे लगा कि उन्होंने अच्छी शुरूआत की। बल्लेबाजों ने हमें कुछ विकेट पेश कर दिए। यही टी20 क्रिकेट है। 

भारतीय कप्तान ने आगे कहा कि डेब्यूटेंट तेज गेंदबाज टी नटराजन में दिखता है कि वह काफी सुधार कर सकता है। दीपक चाहर ने भी अच्छी गेंदबाजी की। चहल ने हमारी मैच में वापसी कराई। हार्दिक पांड्या का कैच मैच का रूख बदलने वाला रहा। 

वहीं, कोहली ने नाबाद 44 रन की पारी खेलने वाले रवींद्र जडेजा की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में आपको अंत तक मजबूत बने रहना होता है। उसने (जडेजा) पिछले मैच में अच्छी बल्लेबाजी की थी और फिर वही प्रदर्शन दोहराया।

इसे भी पढ़ें :

Concussion substitute क्या है, प्लेइंग 11 में न होते हुए भी युजवेंद्र चहल ने डाले पूरे ओवर

कन्कशन सब्सिटीट्यूट बनकर इंडियन टीम में आए चहल ने ऑस्ट्रेलिया को दिया झटका

जडेजा की जगह आए युजवेंद्र चहल

भारतीय टीम ने युजवेंद्र चहल को रवींद्र जडेजा के स्थान पर कनकशन सब्सीटियूट के रूप में उतारा था। दरअसल, जडेजा के पारी के दौरान सिर में एक गेंद लग गई थी, जिसकी वजह से वह मैदान पर नहीं आए। आखिरी ओवर में मिचेल स्टार्क की गेंद जडेजा के बल्ले का किनारा लेकर उनके हेलमेट में लगी। हालांकि, जब मैच रेफरी ने चहल को टीम में शामिल करने के भारत के निर्णय के बारे में ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर को बताया था तो उन्होंने इस फैसले पर नाखुशी जताई थी। 

Advertisement
Back to Top