कोहली की जगह रोहित को कप्तान बनाने की मांग हुई तेज, गंभीर ने कहा कुछ ऐसा

Team India would be Better if t-20 team with rohit sharma as captain Gautam Gambhir - Sakshi Samachar

कप्तानी का पैमाना और मापदंड समान होने चाहिए

कप्तानी नहीं मिलती तो यह शर्मनाक होगा

नयी दिल्ली : इंडियन प्रीमियर लीग के कुल 13 संस्करणों में मुंबई इंडियंस को पांच बार जीत का स्वाद चखाने में सफल टीम के कप्तान रोहित शर्मा को अब भारतीय टी-20टीम की कप्तानी सौंपे जाने की मांग उठने लगी है। विराट कोहली को टी-20 टीम की कप्तानी से हटाकर उनकी जगह रोहित शर्मा को बनाने का समर्थन केवल रोहित शर्मा के फैंस ही नहीं बल्कि क्रिकेट दिग्गज भी करते दिख रहे हैं।

 क्रिकेटर से राजनेता बने पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने तो यहां तक कह दिया है कि इस स्टार बल्लेबाज को यह जिम्मेदारी नहीं सौंपी गई तो यह 'शर्मनाक' और नुकसानदाई होगा। गौतम गंभीर के अलावा  इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी रोहित को टी-20 का कप्तान बनाने का समर्थन किया है। गंभीर ने ईएसपीएनक्रिकइंफो के 'टी2० टाइम आउट' कार्यक्रम में कहा, ''अगर रोहित शर्मा भारतीय कप्तान नहीं बनते तो यह उनका नुकसान है, रोहित का नहीं।''

उन्होंने कहा, ''हां, कप्तान उतना ही अच्छा होता है जितनी अच्छी उसकी टीम होती है और मैं इससे पूरी तरह सहमत हूं, लेकिन कप्तान को परखने का पैमाना क्या है कि कौन अच्छा है और कौन नहीं? पैमाना और मापदंड समान होने चाहिए। रोहित की अगुआई में उनकी टीम (मुंबई इंडियन्स) ने पांच आईपीएल खिताब जीते हैं।'' मुंबई इंडियन्स ने मंगलवार को दुबई में दिल्ली कैपिटल्स को पांच विकेट से हराकर पांचवीं बार आईपीएल खिताब अपने नाम किया। गंभीर ने कहा, ''हम कहते रहते हैं कि महेंद्र सिह धोनी भारत के सबसे सफल कप्तान हैं। क्यों? क्योंकि उनकी अगुआई वाली टीम ने दो विश्व कप और तीन आईपीएल खिताब जीते हैं।''

उन्होंने कहा, ''रोहित ने पांच आईपीएल खिताब जीते हैं, वह टूर्नामेंट के इतिहास के सबसे सफल कप्तान हैं। भविष्य में अगर उसे भारत की सीमित ओवरों या टी2० टीम की कप्तानी नहीं मिलती तो यह शर्मनाक होगा। '' गंभीर ने कहा, ''क्योंकि वह इससे अधिक कुछ नहीं कर सकता। वह सिर्फ उन टीमों को जीत दिलाने में मदद कर सकता है जिनकी वह कप्तानी कर रहा है। इसलिए अगर वह सीमित ओवरों के प्रारूप में भारत का नियमित कप्तान नहीं बनता है तो यह उनका (भारत का) नुकसान होगा।'' रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर के आईपीएल खिताब जीतने के नाकाम रहने के लिए विराट कोहली को जवाबदेह बनाने की मांग कर चुके गंभीर ने कहा कि उनके कहने का मतलब यह नहीं था कि कोहली की कप्तानी 'खराब' है, लेकिन उन्होंने बस सुझाव दिया था कि कप्तानी बांटने का मॉडल समय की जरूरत है।

इसे भी पढ़ें :

IPL 2021 के लिए बीसीसीआई का खास प्लान, शामिल हो सकते हैं 9वीं टीम

IPL 2020 : 13 साल में बदले 12 कप्तान, फिर भी नहीं कर पाई करिश्मा

गंभीर ने कहा, ''वह कप्तानी बांटने पर विचार कर सकते हैं। कोई भी बुरा नहीं है। रोहित ने सीमित ओवरों के प्रारूप में दिखाया है कि उसकी और विराट की कप्तानी में कितना बड़ा अंतर है। एक खिलाड़ी की अगुआई में उसकी टीम ने पांच खिताब जीते, दूसरे ने अब तक नहीं जीता।'' उन्होंने कहा, ''मैं यह इसलिए नहीं कह रहा क्योंकि कोहली बुरा कप्तान है, लेकिन उसे भी वहीं मंच मिला है तो रोहित को मिला है, इसलिए आपको दोनों को समान पैमाने पर मापना होगा।'' टी2० प्रारूप में नेतृत्व के लिए रोहित का समर्थन करते हुए कहा वॉन ने ट्विटर पर लिखा, ''दोनों बराबर समय से आईपीएल में कप्तान हैं। मुझे लगता है कि रोहित नेतृत्वकर्ता के रूप में सबसे आगे है।''

उन्होंने लिखा, ''नि:संदेह रोहित को भारतीय टी2० कप्तान होना चाहिए। शानदार मानव प्रबंधक और नेतृत्वकर्ता और उसे पता है कि टी2० मैच कैसे जीते जाते हैं। इससे विराट को भी सहज होने का मौका मिलेगा। दुनिया भर की टीमों के लिए यह चीज सफल रही है।'' भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने भी रोहित की सराहना की। उन्होंने कहा, ''अब तो आदत सी है सबको ऐसे धोने की। दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टी2० फ्रेंचाइजी और इस प्रारूप का सर्वश्रेष्ठ कप्तान। खिताब की हकदार, मुंबई इंडियन्स, कोई शक। विभिन्न चुनौतियों के बाद अच्छी तरह से आयोजित टूर्नामेंट''। 

Related Tweets
Advertisement
Back to Top