स्टीव स्मिथ बोले : IPL से हुआ दोनों देशों के खिलाड़ियों को फायदा, दोस्ताना माहौल में छींटाकशी खत्म

Steve Smith on Indian Australian players Relationship  - Sakshi Samachar

सिडनी : ऑस्ट्रेलिया (Australia) के शीर्षक्रम के बल्लेबाज स्टीव स्मिथ (Steve Smith) ने इस बात के संकेत दिए हैं कि भारत (India) के खिलाफ होने वाली आगामी सीरीज में वे जुबानी जंग और स्लेजिंग (छींटाकाशी) नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि आईपीएल सहित कई टूनार्मेंटों में लगातार एक दूसरे के साथ खेलने से छींटाकाशी अब पीछे छूट गई है।

पूर्व कप्तान का कहना है कि ऑस्ट्रेलिया का दौरा करने वाली टीमों के खिलाफ छींटाकाशी आम बात होती है, लेकिन इन दिनों चीजें बदल गई है। स्मिथ सहित कई खिलाड़ी भारतीय खिलाड़ियों के साथ आईपीएल-13 में एक-दूसरे के साथ खेल चुके हैं और ड्रेसिंग रूम साझा कर चुके हैं।

स्मिथ ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा, "लोग स्लेजिंग के बारे में बहुत बात करते हैं। लेकिन हमारे समय में यह बहुत कम होता है। मुझे लगता है कि शायद आईपीएल जैसी चीजों के होने से यह बहुत कम हुआ है, जो दुनियाभर के खिलाड़ियों को एक साथ लाता है। उदाहरण के लिए अगर आप किसी दिन इसमें स्लेजिंग करने में फंस जाते हैं, तो कुछ दिन या कुछ महीने बाद उनके साथ खेल सकते हैं। उस समय यह अजीब लगता है। निश्चिचत रूप से इन दिनों यह ज्यादा नहीं होता है।"

यह पूछे जाने पर कि क्या आईपीएल के दौरान वह भारतीय गेंदबाजों को फांस पाए हैं, स्मिथ ने भारतीय गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा, "इससे नुकसान नहीं होता। (आईपीएल में उनके साथ खेलने से)। लेकिन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट अलग है। वे एकजुट होकर गेंदबाजी करते हैं। उनके पास बहुत ही अच्छी गेंदबाजी लाइनअप है। पिछले कुछ वर्षों से उन्होंने खुद को साबित किया है। हमारे लिए यह एक रोमांचक समर होने वाला है।"

स्मिथ ने साथ ही कहा कि सीमित ओवरों की सीरीज में रोहित शर्मा के और अंतिम तीन टेस्ट मैचों में विराट कोहली के न होने से भारतीय टीम पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि उनके पास इनकी कमी को पूरा करने के लिए काफी प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं।

इसे भी पढ़ें :

सचिन-विराट नहीं, भारत के इस बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया में बनाए सबसे ज्यादा शतक

आखिरी बार कब भिड़ी थीं IND-AUS की टीमें, क्या था उसका रिजल्ट.. याद है या नहीं

उन्होंने कहा, " सीमित ओवरों के क्रिकेट में रोहित शानदार हैं। उन्होंने पिछले कुछ वर्षों से खुद को साबित किया है। निश्चित रूप से उनके न रहने से थोड़ा फर्क पड़ेगा, लेकिन भारतीय टीम में कई सारे प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं। आप मयंक अग्रवाल को देख सकते हैं। आईपीएल में उन्होंने रन बनाए हैं। लोकेश राहुल भी टॉप आर्डर में बल्लेबाजी कर सकते हैं।"

भारत और आस्ट्रेलिया के बीच शुक्रवार से तीन मैचों की वनडे सीरीज शुरू होगी।

Related Tweets
Advertisement
Back to Top