मुश्किल दौर से गुजर रही हैं साइना नेहवाल, अब वापसी करना आसान नहीं !

Saina Nehwal is going through difficult times - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : पूर्व राष्ट्रीय चैम्पियन और कोच विमल कुमार (Vimal Kumar) ने कहा है कि लंदन ओलम्पिक (London Olympics) की कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल  (Saina Nehwal)अपने करियर के मुश्किल दौर से गुजर रही हैं। विमल ने कहा कि साइना और ज्यादा मैच न हारें इसके लिए जरूरी है कि वह अपना ख्याल रखें।

वर्तमान समय में विश्व की नंबर-20 खिलाड़ी साइना इस समय जारी टोयोटा थाईलैंड ओपन (Thailand Open) के दूसरे दौर में ही हार कर बाहर हो गई थीं। इससे पहले वे योनेक्स थाईलैंड ओपन  में भी दूसरे दौर में बाहर हो गई थीं।

कुमार ने आईएएनएस से कहा, "उनके लिए वापसी करना आसान नहीं होगा। मैंने हमेशा कहा है कि अगर उन्हें दर्द नहीं होगा तो वह हमेशा अच्छा खेलेंगी। दर्द से ज्यादा वो पूरी तरह से फिट नहीं लग रही थीं। हो सकता है कि इसका कारण कोविड हो और अब वह इससे उबर रही हों।"

दो बार के राष्ट्रीय चैम्पियन कुमार ने कहा कि साइना अपने करियर के मुश्किल दौर से गुजर रही हैं।  उन्होंने कहा, "मुझे भी लगता है। बीते कुछ वर्षों से चीजें उनके लिए सही नहीं रही हैं। उन्हें आात्मविश्वास की जरूरत है। आखिरी बार इंडोनेशिया मास्टर्स में उन्होंने अच्छा खेला था।"

उन्होंने कहा, "वर्कआउट, फिजिकल ट्रेनिंग और बाकी की चीजें काफी अहम हैं। उन्हें इन सभी चीजों को लेकर अच्छी प्लानिंग करनी होगी। यही एक तरीका है जिससे वो बाहर निकल सकती हैं। इसी तरह ज्यादा मैच हराने से उनके आत्मविश्वास पर असर पड़ेगा। सिर्फ शारीरिक तौर पर नहीं बल्कि मानसिक तौर पर भी। वह मजबूत लड़की हैं लेकिन इस तरह के परिणाम उन्हें प्रभावित क सकते हैं।"

साइना ने कुमार के साथ अपने शुरुआती करियर में काम किया था इसके बाद वह 2014 से 2017 तक फिर एक बार कुमार के पास लौटी थीं। इसी दौरान वह विश्व की नंबर-1 खिलाड़ी भी बनी थीं।

साइना इस समय टोक्यो ओलम्पिक की रैंकिंग में 15वें स्थान पर हैं। पीवी सिंधु सातवें पर हैं इसलिए साइना को ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई करने के लिए आठवां स्थान हासिल करना होगा। थाईलैंड के टूर्नार्मेंट ओलम्पिक क्वालीफिकेशन का हिस्सा नहीं हैं।

कुमार ने कहा, "अगले एक से डेढ़ महीना उनके उनकी ओलिम्पक की संभवना का फैसला करेंगे। अगरे पांच छह सप्ताह काफी अहम हैं और इससे हमें पता चल जाएगा।"

इसे भी पढ़ें :

थाईलैंड ओपन में खत्म हुआ ड्रामा, पहले बाहर करने के बाद साइना-प्रणॉय को मिली खेलने की इजाजत

थाईलैंड ओपन-2021 से पहले मची खलबली, बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल और प्रणय हुए कोरोना संक्रमित

कुमार ने कहा कि मार्च में कोविड के कारण लगे लॉकडाउन के बाद भारतीय खिलाड़ी अब पहली बार खेल रहे हैं जबकि उनके विपक्षी पहले से खेलते आ रहे हैं।
कुमार ने कहा, "उनको मैच प्रैक्टिस की कमी है। सभी खिलाड़ी 10 महीने के बाद खेल रहे हैं। जो अच्छा नहीं है। सिंधु को ज्यादा मैचों की जरूरत है। यही एक तरीका है जिससे वे वापसी कर सकती हैं। हमें देखना होगा कि मार्च में किस तरह से चीजें होती हैं।"

Advertisement
Back to Top