कभी लड़कियों के फेवरेट थे टीम इंडिया के कोच, इस बॉलीवुड एक्ट्रेस के साथ था अफेयर

Know About Ravi Shastri Affair With Bollywood Actress On His Birthday - Sakshi Samachar

स्कूली दिनों में सबसे पीछे की बेंच पर बैठता था शास्त्री 

रवि शास्त्री का अफेयर 

टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री आज अपना 58वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म  27 मई सन 1962 को मुंबई में हुआ था। यूं तो रवि शास्त्री आज किसी पहचान के मोहताज नहीं है। लेकिन बहुत कम लोगों को पता होगा कि शास्त्री अपने स्कूली दिनों में सबसे पीछे की बेंच पर बैठा करते थे। उनके जन्मदिन के मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ी दिलचस्प बातें.... 

रवि शास्त्री के पिताजी डॉक्टर थे। जब रवि शास्त्री बहुत छोटे थे तब वे गिल्ली-डंडा, कंचे और फुटबॉल-हॉकी खेलने में ही ज़्यादा समय बिताते थे। कहा जाता है कि बचपन में रवि शास्त्री बहुत जिद्दी स्वभाव के थें। किसी भी खेल में आउट हो जाने पर वे अपने खेल के सामानों को लेकर खेलना बंद कर देते थे। तो सारे दोस्त उनकी बात मानकर उन्हें एक मौका और दे देते थे।

स्कूली दिनों में सबसे पीछे की बेंच पर बैठता था 

स्कूल के दिनों में रवि शास्त्री अपनी क्लास में सबसे पीछे की बेंच पर बैठते थे। इसका एक कारण थी आखिरी बेंच के पास की खिड़की। इस खिड़की से वे क्लास से बाहर क्या चल रहा है यह देख पाते थे। जब रवि शास्त्री 9वीं में थे, तब स्कूल की क्रिकेट टीम बनी और उनके कोच देसाई सर ने उन्हें क्रिकेट सीखने में खूब मदद की। उनकी वजह से ही वे क्रिकेटर बन सके। मेट्रिक की परीक्षा के बाद उन्होंने आर ए पोदार कॉलेज में दाखिला लिया और कॉलेज के दुसरे साल ही उन्हें रणजी ट्राफी खेलने के लिए महाराष्ट्र की टीम में शामिल किया गया था। जब शास्त्री का रणजी ट्राफी खेलने के लिए चयन हुआ तब वो केवल 17 साल के थे।

क्रिकेट करियर 

रवि शास्त्री ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत कम उम्र में की थी, इन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए सन 1981 से 1992 तक टेस्ट क्रिकेट और एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेला है। उन्होंने भारत की ओर से 80 टेस्ट और 150 एकदिवसीय मुकाबले खेले है। टेस्ट में उनके खाते पर 3830 जबकि वनडे में 3108 रन दर्ज है। बल्लेबाजी के साथ-साथ शास्त्री गेंदबाजी में भी माहिर थें। उन्होंने टेस्ट में 151 और वनडे में 129 विकेट चटकाया है। वो भारतीय क्रिकेट टीम के मैनेजर भी रह चुके है। साथ ही अभी वो मुख्य कोच है। कोच पद इनकी नियुक्ति के समय कुछ विवाद भी उठा था। लेकिन इन विवादों को पीछे छोड़ते हुए शास्त्री ने कोहली के साथ मिलकर टीम को काफी ऊंचाईयों पर पहुंचाया है।

शास्त्री के संबंध में एक रोचक जानकारी यह भी दे दें कि क्रिकेटर आकाश चोपड़ा की किताब 'नंबर्स डू लाइज़' के विमोचन समारोह में कपिल देव ने कहा था कि रवि शास्त्री जैसा कोई खिलाड़ी जिसमें कोई प्रतिभा नहीं हो और वो इतने लंबे समय तक क्रिकेट खेलता है। मैं समझता हूँ कि यही उसकी सबसे बड़ी उपलब्धि है।

क्रिकेट से सन्यास 

सन् 1992 में  रवि शास्त्री ने 31 साल की उम्र में घुटने की चोट के कारण सन्यास ले लिया था। क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद रवि शास्त्री टीवी पर कमेंट्रेटर के रूप में शुरुआत की थी, 2003 में वे सेलिब्रिटी मैनेजमेंट कंपनी शोडिफ वर्ल्डवाइड में हिस्सेदार बने थे।

क्रिकेट वर्ल्ड में रवि शास्त्री का नाम तीन कारणों से हमेशा याद किया जाता है। पहला उनके लगातार 6 छक्कों के लिए, दूसरा ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर माइक व्हिटनी के साथ स्लेजिंग। तीसरा बॉलीवुड एक्ट्रेस अमृता सिंह के साथ उनके अफेयर के कारण।

रवि शास्त्री का अफेयर 

80 के दशक में रवि को क्रिकेट टीम का पोस्टर ब्वॉय कहा जाता था, जिन पर लाखों लड़कियां जान छिड़कती थीं। उनकी महिला फैन फॉलोइंग की कमी नहीं थी। शादी से पहले उनके और बॉलीवुड एक्ट्रेस अमृता सिंह के लव अफेयर की चर्चा भी गरम रही थी। अमृता खुलेआम उन्हें स्टेडियम में चियर भी करती थीं। दोनों एक मैगजीन के कवर पर भी साथ नजर आए थे। इसके बाद दोनों सार्वजनिक रूप से एक दूसरे के साथ नजर आने लगे थे, इतना ही नहीं अफवाह उड़ी थी कि दोनों ने सगाई कर ली है और जल्द ही शादी के बंधन में बंध जाएंगे।  फिर रवि शास्त्री को सामने आकर ये कहना पड़ा, 'मैं कभी भी एक्ट्रेस वाइफ नहीं चाहता हूं। मैं क्रांतिकारी हूं और मेरा मानना है कि मेरी पत्नी की पहली प्राथमिकता घर होनी चाहिए।'

निमरत कौर के साथ अफेयर 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ऐसी खबरें थी कि निमरत कौर और रवि शास्त्री पिछले दो से एक दूसरे को डेट कर रहे हैं। दोनों की पहली मुलाकात साल 2015 में एक जर्मन कार कंपनी की कार लॉन्चिंग के दौरान हुई थी। जिसके बाद ये दोस्ती प्यार में बदल गई और दोनों एक दूसरे को डेट करने लगे। हालांकि बाद में निमरत कौर का बयान आया और उन्होंने इस खबर को गलत करार दिया। 

इसके अलावा डिंपल कपाड़िया के साथ भी उनका नाम काफी उछाला गया था। आर्मी ऑफिसर की बेटी और टीवी कमेंटेटर रितु सिंह से 1990 में शादी की थी, रवि शास्त्री की एक बेटी अलीका है।

पुरस्कार

1984 में भारत के पूर्व क्रिकेटर और मुख्य कोच रवि शास्त्री को क्रिकेट के लिए "अर्जुन पुरस्कार" से सम्मानित किया गया था।
2004 में सर्वश्रेष्ठ एंकर कमेंटेटर के लिए "आईटीए पुरस्कार" से सम्मानित किया गया था।
2017में सीएनएन-आईबीएन भारतीय वर्ष की विशेष उपलब्धि के लिए सम्मानित किया गया था।

Advertisement
Back to Top