Pink Ball Test : जानें कैसा है टीम इंडिया का रिकॉर्ड, कौन सफल बल्लेबाज-किसकी गेंदबाजी में दिखी धार

Indian Cricket Team Pink Ball Record In Tests - Sakshi Samachar

हैदराबाद : भारत और इंग्लैंड (England) के बीच चार टेस्ट मैचों की सरीज का तीसरा मुकाबला अहमदाबाद (Ahmedabad) के मोटेरा स्टेडियम (Motera Stadium) में 24 फरवरी से खेला जाएगा। यह टेस्ट मैच डे-नाइट (Day-Night Test) खेला जाएगा। टीम इंडिया (Indian Cricket Team) के लिए यह तीसरा डे-नाइट मैच होगा। यहां आपको बताते चलें कि विराट कोहली (Virat Kohli) के नेतृत्व में टीम इंडिया अब तक 2 डे-नाइट मैच खेल चुकी है। पहला मैच उसने साल 2019 में कोलकाता के ईडन गार्डन (Eden Gardens) मैदान में बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ खेला था। भारत ने इस मैच को पारी और 46 रनों से जीता था।

इस टेस्ट मैच के बाद भारतीय टीम ने विदेश में पहली बार गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच खेला, जिसमें उसकी करारी हार हुई थी। ये मैच पिछले साल दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में खेला गया था। भारतीय टीम टेस्ट मैच की दूसरी पारी में महज 36 रनों पर ढेर हो गई थी। टेस्ट मैच में ये उसका सबसे कम स्कोर भी है। 

डे-नाइट टेस्ट मैचों में भारत का रिकॉर्ड देखें तो ये 50-50 रहा है। उसे एक मैच में हार तो एक में जीत मिली है। लेकिन घरेलू जमीन पर उसका रिकॉर्ड 100 प्रतिशत रहा है। ऐसे में देखना होगा कि क्या उसका ये रिकॉर्ड इंग्लैंड के खिलाफ मैच के बाद भी कायम रहेगा।

भारतीय कप्तान विराट कोहली डे-नाइट टेस्ट मैच में भारत के सबसे सफल बल्लेबाज रहे हैं। वो बांग्लादेश के खिलाफ शानदार शतक जड़ चुके हैं। एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में उन्होंने 74 रन और दूसरी पारी में 4 रन बनाए थे। कोहली ने 2 डे-नाइट टेस्ट मैचों में 214 रन बनाए हैं। वहीं, बांग्लादेश के खिलाफ 2019 में लगाया गया शतक कोहली का आखिरी शतक है। इसके बाद से उनके बल्ले से शतक नहीं निकली है।

वहीं, गेंदबाजों की बात करें तो ईशांत शर्मा और उमेश यादव ने बांग्लादेश के खिलाफ पारी में 5-5 विकेट झटके थे। ईशांत ने मैच में 9 विकेट लिए थे तो उमेश को 8 विकेट मिले थे। डे-नाइट टेस्ट मैचों में उमेश के नाम 11 विकेट हैं तो ईशांत के नाम 9 विकेट हैं।

Advertisement
Back to Top