ऑस्ट्रेलिया को 36 साल बाद घर में झेलनी पड़ेगी ये जिल्लत, बचने का सिर्फ एक मौका

India Vs AUstralia 4th Test Match In brisbane - Sakshi Samachar

400 रन बनाने में फेल होंगे ऑस्ट्रेलिया  

इस सदी में पहली बार होगा ऐसा

ब्रिस्बेन : ब्रिस्बेन टेस्ट ( Brisbane) फिलहाल भारत और ऑस्ट्रेलिया (Australia) के बीच फिफ्टी-फिफ्टी का मुकाबला बन गया है। दोनों टीमों के पास अब बस एक पारी है। इसमें ऑस्ट्रेलिया को न सिर्फ उसके सामने टीम इंडिया (Indian Cricket Team) के लिए एक बड़ा टारगेट सेट करने की चुनौती होगी बल्कि 36 साल बाद दामन पर लगने वाले दाग से बचने की भी कोशिश करनी होगी। 

ऑस्ट्रेलिया को बीते 36 साल में पहली बार घरेलू सीजन में वो जिल्लत न झेलनी पड़ी, इससे बचने का उसके पास बस एक मौका है। वो मौका है ब्रिस्बेन टेस्ट की दूसरी पारी। अपनी इस इनिंग में मेजबान टीम को ऐसा क्या करना होगा, जिससे वो 36 साल पुराने दाग को झेलने से बच सकती है।

400 रन बनाने में फेल होंगे ऑस्ट्रेलिया  

दरअसल, ये दाग है घरेलू सीरीज में 400 प्लस रन नहीं बनाने का। भारत के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज 1985-86 के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम की पहली घरेलू सीरीज है, जिसमें उसने 400 या उससे ज्यादा रन नहीं बनाए हैं। मौजूदा घरेलू टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया का सबसे बड़ा स्कोर 369 रन है, जो उसने ब्रिस्बेन टेस्ट की ही पहली पारी में बनाए हैं। 

इस सदी में पहली बार होगा ऐसा

1985-86 में 6 टेस्ट मैचों की खेली घरेलू सीरीज में ऑस्ट्रेलियाई टीम का सबसे हाईएस्ट स्कोर 396 रन रहा था। वो सिर्फ 4 रन से 400 रन का आंकड़ा नहीं छू सके थे। ऑस्ट्रेलिया अगर भारत के खिलाफ जारी ब्रिस्बेन टेस्ट की दूसरी इनिंग में भी 400 रन नहीं बना पाता तो इससे 36 साल बाद तो घरेलू सीरीज में उसके साथ ऐसा होगा ही साथ ही ये इस सदी में उसकी पहली घरेलू टेस्ट सीरीज होगी, जिसमें 400 रन नहीं बना सकेगी। 

इसे भी पढ़ें :

शार्दुल-सुंदर के नाम रहा आज का दिन, ऑस्ट्रेलिया के पास 54 रन की बढ़त

AUS Vs IND : ऑस्‍ट्रेलियाई टीम जब-जब भारत के खिलाफ 369 रन पर ऑलआउट हुई, जानें क्‍या हुआ नतीजा !

शार्दूल ठाकुर (67) और वॉशिंगटन सुंदर (62) के बीच सातवें विकेट के लिए हुई 123 रनों की शतकीय और बहुमूल्य साझेदारी के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने अपनी पहली पारी में 336 रन का स्कोर बनाया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसकी पहली पारी में 369 रनों पर समेट दिया था और इस लिहाज से भारत पहली पारी में 33 रनों से पीछे रहा। चार मैचों की सीरीज में दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर हैं।

Advertisement
Back to Top