AUS Vs IND : टीम इंडिया की हार का अंतर कम करने में जुटे पुछल्ले बल्लेबाज

India Vs Australia 1st ODI Match In Sydeney Live Scorecard - Sakshi Samachar

सिडनी :  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की सीरीज का पहला वनडे इंटरनैशनल मैच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में खेला जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया के 374/6 स्कोर के जवाब में टीम इंडिया ने तेज शुरुआत तो की, लेकिन 28 ओवरों में भारतीय टीम ने 44 ओवरों में 7 विकेट पर 282 रन बना लिए हैं। मयंक अग्रवाल (22), विराट कोहली (21), श्रेयस अय्यर (2) और केएल राहुल (12) रन बनाकर पवेलियन लौट चुके हैं। इसके बाद शिखर धवन व हार्दिक पांड्या की जोड़ी भारत को हार से बचाने की कोशिश की।  समाचार लिखे जाने तक मोहम्मद शमी व सैनी क्रीज पर मौजूद थे।

इसके पहले शिखर धवन (74) और हार्दिक पांड्या (90) रन बनाकर आउट हो गए। फिर जडेजा भी लंबे शॉट लगाने की कोशिश में 25 रन बनाकर चलते बने।

इसके पहले आज हार्दिक पांड्या ने एक कीर्तिमान भी बनाया। एकदिवसीय मैचों में एक हजार रन व 50 विकेट लेने वाले भारत के 12वें व दुनिया के 62वें खिलाड़ी बने हैं। 

इससे पहले कप्तान एरॉन फिंच (114) और स्टीव स्मिथ (105) की बेहतरीन शतकीय पारियों के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने शुक्रवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर खेले जा रहे पहले वनडे मैच में भारत के सामने 375 रनों का विशाल लक्ष्य रखा है।फिंच ने अपनी सलामी जोड़ीदार डेविड वार्नर (69) के साथ पहले विकेट के लिए 156 रनों की साझेदारी निभाई और फिर स्मिथ के साथ दूसरे विकेट के लिए 108 रन जोड़े। ग्लैन मैक्सवेल ने भी 19 गेंदों पर तेजी से 45 रन बना कर ऑस्ट्रेलिया को 50 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 374 रनों के विशाल स्कोर तक पहुंचाने में अहम रोल निभाया। यह वनडे में ऑस्ट्रेलिया का भारत के खिलाफ सर्वोच्च स्कोर है।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। वार्नर ने सीरीज से पहले दिए गए अपने बयान को सही साबित किया और फिंच के साथ मिलकर पारी को बनाने पर ध्यान दिया। दोनों बल्लेबाजों ने शुरुआत धीमी जरूर की लेकिन यह सुनिश्चित किया कि विकेट ना गिरे। दोनों ने भारत के गेंदबाजों को पूरी तरह से निराश किया जो पावरप्ले में लगातार चौथे वनडे मैच में विकेट नहीं ले पाए।

शमी ने भारत को पहली सफलता दिलाई

जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और नवदीप सैनी की तेज गेंदबाज तिगड़ी भी बेअसर रही और युजवेंद्र चहल तथा रवींद्र जडेजा की फिरकी भी।दोनों बल्लेबाजों ने इस बीच अपने अर्धशतक पूरे किए। शमी ने आखिरकार भारत को पहली सफलता दिलाई। शमी की गेंद वार्नर के बल्ले का किनारा ले कर विकेटकीपर लोकेश राहुल के दस्तानों में जा समाई। वार्नर ने अपनी पारी में 76 गेंदों का सामना करते हुए 6 चौके लगाए।

स्टीव स्मिथ को जडेजा ने 15 के निजी स्कोर पर एलबीडब्ल्यू कर दिया। यहां स्मिथ ने रिव्यू लिया और अंपायर को फैसला बदलना पड़ा और फिर स्मिथ ने काफी आक्रामक खेल खेला। फिंच के साथ स्मिथ ने भारतीय बल्लेबाजों को विकेट के लिए तरसा दिया। इसी दौरान स्मिथ ने अर्धशतक और कप्तान फिंच ने अपना शतक पूरा किया।फिंच 40वें ओवर की आखिरी गेंद पर बुमराह की गेंद को थर्डमैन के ऊपर से खेलने की कोशिश में राहुल को आसान सा कैच दे बैठे। कप्तान ने अपनी पारी में 124 गेंदों का सामना किया और नौ चौकों के अलावा दो छक्के लगाए। यह फिंच के वनडे करियर का 17वां शतक है।

स्मिथ ने 61 गेंदों पर बनाया शतक

आईपीएल में दमदार प्रदर्शन करने वाले मार्कस स्टोनिस, फिंच के बाद आए लेकिन पहली ही गेंद पर युजवेंद्र का शिकार बन गए। वह खाता नहीं खोल पाए।फिर स्मिथ और मैक्सवेल ने दोनों छोर से तेजी से रन बटोरे। दोनों ने 57 रन जोड़े जिसमें से 45 सिर्फ मैक्सवेल के थे। मैंक्सवेल अर्धशतक पूरा नहीं कर सके। शमी ने उन्हें जडेजा के हाथों कैच करा दिया। स्मिथ ने 61 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया जो वनडे में आस्ट्रेलिया की तरफ से तीसरा सबसे तेज शतक है। उनकी पारी का अंत शमी ने आखिरी ओवर में तीसरी गेंद पर किया। स्मिथ ने कुल 66 गेंदें खेली जिसमें से 11 पर चौके और चार पर छक्के मारे। एलेक्स कैरी 13 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 17 रन बनाकर नाबाद रहे।

भारतीय गेंदबाज काफी महंगे साबित हुए। चहल ने 10 ओवरों में 89 रन खर्च कर सिर्फ एक विकेट लिया। बुमराह ने 10 ओवरों में 73 रन देकर एक विकेट हासिल किया। नवदीप सैनी ने भी 10 ओवरों में 8.3 की औसत से 83 रन लुटाए और सिर्फ एक सफलता हासिल की। शमी थोड़े तुलनात्मक तरीके से किफायती रहे। 10 ओवरों में शमी ने 59 रन दिए और तीन सफलताएं अर्जित कीं। 

डेविड वॉर्नर (69 रन, 76 गेंदें, 6 चौके) को मो. शमी की गेंद पर विकेट के पीछे केएल राहुल ने लपका। डेवड वॉर्नर-एरॉन फिंच की सलामी जोड़ी ने 156 रन जोडे़। वॉर्नर ने 54 गेंदों में अपनी फिफ्टी पूरी की थी। यह उनका वनडे इंटरनेशनल करियर का 22वां अर्धशतक रहा। इससे पहले फिंच ने 69 गेंदों में अपने पचास रन पूरे किए थे।

विराट कोहली की टीम ने आखिरी बार अंतरराष्ट्रीय मैच मार्च की शुरुआत में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। कोरोना महामारी के कारण लंबे समय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर रही टीम का सामना अब ऑस्ट्रेलिया जैसे धुरंधर से है जिसे उसकी धरती पर हराना कतई आसान नहीं होगा।

आरोन फिंच के पांच हजार रन पूरे

कप्तान फिंच ने जसप्रीत बुमराह की पांचवीं गेंद पर सिंगल लेकर यह कीर्तिमान बनाया, उन्हें 126 पारी लगे।

भारतीय टीम 1992 विश्व कप की नेवी ब्लू जर्सी में नजर आएगी। अंधविश्वासों को मानने वाले इसे अच्छा संकेत नहीं कहेंगे क्योंकि उस टूर्नमेंट में भारत नौ टीमों में सातवें स्थान पर रहा था। वैसे क्रिकेट में अतीत का प्रदर्शन मायने नहीं रखता। ऑस्ट्रेलिया में फोकस इस पर रहेगा कि रोहित की अनुपस्थिति में टीम संयोजन सही कैसे बन पाता है।

ऑस्ट्रेलिया का प्लेइंग XI: आरोन फिंच (कप्तान), डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ, मार्कस स्टॉयनिस, मार्नस लाबूशेन, ग्लेन मैक्सवेल, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, एडम जाम्पा, जोश हेजलवुड।

भारत का प्लेइंग XI: शिखर धवन, मयंक अग्रवाल, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, केएल राहुल (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी।

इसे भी पढ़ें :

क्रिकेट इतिहास का मनहूस दिन, ग्राउंड पर तेज बाउंसर ने ली थी फिलिप ह्यूज की जान​

Advertisement
Back to Top