आखिरी बार कब भिड़ी थीं IND-AUS की टीमें, क्या था उसका रिजल्ट.. याद है या नहीं

 IND Vs AUS Team India Lost By Ten Wickkets In Wankhede Stadium - Sakshi Samachar

टीम इंडिया को बड़ा दर्द दे गई यह हार

यूं दूर किया बुमराह का खौफ

हैदराबद : भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) इस समय ऑस्ट्रेलिया (Australia) दौरे पर है जहां 27 नवंबर से वनडे सीरीज (ODI Series) खेला जाना है। इस सीरीज को लेकर क्रिकेट फैंस में काफी उत्‍सुकता बनी हुई है। विश्‍व की दो सबसे तगड़ी टीमें आपस में भिड़ेंगी और अपनी बादशाहत साबित करने के लिए एड़ी-चोटी का दांव लगाएंगी। 

भारत का वनडे क्रिेकट में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ शानदार रिकॉर्ड रहा है। लेकिन साल 2020 के शरूआत में अपने पहले वनडे मैच में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा। मेहमान ऑस्ट्रेलियाई टीम ने वानखेड़े स्टेडियम में टीम इंडिया को 10 विकेटों से हराते हुए कई शर्मनाक रिकॉर्ड अपने नाम करने के लिए मजबूर कर दिए। भारत को इस स्टेडियम में जहां पहली बार 10 विकेट से हार मिली, वहीं, इस स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया को तीसरी बार जीत मिली। 

कंगारू टीम की इस जीत में हीरो रहे विस्फोटक डेविड वॉर्नर (नाबाद 128 रन, 112 गेंद, 17 चौके और 3 छक्के) और कप्तान आरोन फिंच (नाबाद 110 रन, 114 गेंद, 13 चौके और 2 छक्के)। दोनों के शतकों से ऑस्ट्रेलिया ने 256 रनों के लक्ष्य को एकतरफा बना दिया और 74 गेंद शेष रहते हुए रिकॉर्ड 10 विकेट से जीत दर्ज की। 

टीम इंडिया को बड़ा दर्द दे गई यह हार

विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम के लिए यह हार इसलिए भी बड़ा दर्द दे गई होगी, क्योंकि 50-50 क्रिकेट फॉर्मेट के नंबर वन बल्लेबाज खुद विराट कोहली हैं तो गेंदबाज जसप्रीत बुमराह हैं और ये दोनों टीम में खेल भी रहे थे। आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन विराट के बाद दूसरे स्थान पर ओपनर और उपकप्तान रोहित शर्मा हैं। ये तीनों वे खिलाड़ी हैं, जिनसे विपक्षी टीम खौफ खाती है, लेकिन वानखेड़े में ऐसा कुछ भी देखने को नहीं मिला। इतनी धाकड़ टीम और होम ऐडवांटेज होने के बावजूद 10 विकेट से हारने की शायद ही किसी ने उम्मीद की थी। 

भारत को साल 2020 में पहली हार मिली

भारत को साल 2020 में पहली हार मिली और हार भी ऐसी जो 15 साल में उसे कभी नहीं मिली थी। ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर टीम इंडिया को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। टीम इंडिया ने 49.1 ओवर में 255 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। भारत की ओर से शिखर धवन ने 74 और लोकेश राहुल ने 47 रनों की पारी खेली। बाकी का कोई और बल्लेबाज बड़ा योगदान नहीं दे सका। ऋषभ पंत 28 और रवींद्र जडेजा ने 27 रन रन बनाए। वहीं ऑस्ट्रेलिया के लिए मिशेल स्टार्क ने तीन, पैट कमिंस तथा केन रिचर्डसन ने दो-दो और एडम जाम्पा तथा एश्टन एगर ने एक-एक विकेट लिया। 

255 रन के जवाब में आरोन फिंच और डेविड वॉर्नर के शतकों की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने 37.4 ओवरों में ही बिना कोई विकेट खोए 258 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया। साल 2005 के बाद भारत पहली बार किसी वनडे में 10 विकेट से हारा था। 

इसे भी पढ़ें : 

रोहित शर्मा ने अपनी चोट को लेकर पहली बार तोड़ी चुप्पी, कहा- मैं कोई कसर नहीं रहने दूंगा

सचिन-विराट नहीं, भारत के इस बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया में बनाए सबसे ज्यादा शतक

यूं दूर किया बुमराह का खौफ

छोटा लक्ष्य मिलने के बाद ओपनिंग करने आए वॉर्नर और फिंच ने सहजता से रन बटोरकर जसप्रीत बुमराह के ‘खौफ’ को दूर किया। शुरुआत में बुमराह से परेशान दिखे, लेकिन दूसरे छोर पर शमी और शार्दुल को शॉट लगाने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं हुई। ऐसा ही कुलदीप के साथ दिखा। इस स्पिनर को खेलने में फिंच को थोड़ा परेशानी हुई। कई बार गेंद भी हवा में उछली, लेकिन 'नो मेंस लैंड' पर गिरी और उन्हें आंखें जमाने का समय मिल गया। इसके बाद तो जो हुआ उसका गवाही रिजल्ट दे रहा है। 

संक्षिप्त स्कोर
भारत : 255 (49.1 ओवर)
ऑस्ट्रेलिया: 258/0 (37.4 ओवर)
मैन ऑफ द मैच: डेविड वॉर्नर (ऑस्ट्रेलिया)

Related Tweets
Advertisement
Back to Top