गालियों के बावजूद मैदान पर क्रिकेट खेलते रहे सिराज, मंगेतर ने कुछ इस तरह बढ़ाया हौसला

Fiancee And Mother Helped Cricketer Siraj With Stand Racial Abuses - Sakshi Samachar

हैदराबाद: हैदराबाद (Hyderabad) के क्रिकेटर मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) ऑस्ट्रेलिया (Australia) में अपने खिलाफ हुए नस्लीय गालियां मिलने के बावजूद कैसे उन चुनौतियों का सामना किया अब जाकर खुलासा किया है। सिराज ने इस बात की जानकारी मीडिया से बातचीत के दौरान दी है। उन्होंने बताया कि उनकी इस सहनशक्ति के पीछे उनकी मां और मंगेतर का हाथ था। इन्हीं दोनों के हौसलों की वजह से ही उन्होंने विपरीत हालात का सामना करने में कामयाब हो पाए। जिसके परिणामस्वरूप वे टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक यादगार जीत दिलाने में महत्वपूर्ण योगदान दे सके।  

सिराज ने अपने मंगेतर से सांत्वना और सीक्रेट इंस्पीरेशन मंत्र की वजह से वह तीन -तीन बार चुनौतियों का सामना करने में कामयाब हो सके। उन्होंने कहा कि जब मैं इन चुनौतियों को फेश कर रहा था उस दौरान मेरी मां ही थी जो मेरे साथ एक चट्टान की तरह खड़ी थी और मुझे प्रोत्साहित कर रही थी।

उन्होंने बताया कि ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर जाते ही मैं दिमागी तौर पर काफी परेशान हो चुका था, क्योंकि तभी मेरे पिता का नवंबर में निधन हो गया था। वह दु: ख की घड़ी में अपने परिवार के सदस्यों के साथ वापस लौटना चाहते थे। लेकिन जब मैंने सोचा कि घर आ जाउं तो उन्होंने मुझसे अपने पिता के सपने को पूरा करने का आग्रह किया।"

उन्होंने बताया कि मेरी मां के अलावा मंगेतर ने मेरा काफी सपोर्ट किया वे लगातार मुझे प्रोत्साहित करती रही। संयोग से उन्होंने यह भी खुलासा किया कि उन्होंने पिछले साल सगाई कर ली। उनके दोस्तों ने खुलासा किया कि शादी इसी साल होगी।

सिराज ने सोशल मीडिया पर एक फोटो पोस्ट की है। इसमें वे खुद की बीएमडब्ल्यू कार को ड्राइव करते हुए दिखाई दे रहे हैं। हाल ही में उन्होंने यह कार ली है। 

बता दें कि हैदराबादी क्रिकेटर ने चार टेस्ट मैचों में कुल 13 विकेट हासिल किए। चौथे टेस्ट में भारत की शानदार जीत में भी सिराज ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और भारत को बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी 2-1 से जीतने में मदद की। 

Advertisement
Back to Top