IND Vs AUS: ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका, चोट के कारण डेविड वॉर्नर बाहर, कमिंस को भी आराम

David Warner Injury ruled out of last odi And T20 series - Sakshi Samachar

वॉर्नर की टीम में डार्सी शॉर्ट शामिल

फिंच को वार्नर की चोट की जानकारी नहीं

सिडनी : भारत के खिलाफ सिडनी में दूसरे वनडे मैच में 51 रन से जीत दर्ज करने के बावजूद ऑस्ट्रेलिया (Australia) को बड़ा झटका लगा है। टीम के विस्फोटक बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (David Warner) चोट के कारण आखिरी वनडे मैच (ODI Match) से बाहर हो गए हैं। इसके साथ ही वह 3 मैचों की टी20 सीरीज (T20 Series) में भी नहीं खेलेंगे। ऑस्ट्रेलिया ने वॉर्नर की जगह भरने के लिए टीम में डार्सी शॉर्ट (D’arcy Short) को टीम में शामिल किया है, जो पूरी टी20 सीरीज तक टीम का हिस्सा रहेंगे।

वॉर्नर से पहले ऑलराउंडर मार्कस स्टोइनिस भी चोटिल हो चुके हैं। हालांकि वह सीरीज से बाहर नहीं हुए हैं। आखिरी वनडे इंटरनैशनल मैच 2 दिसंबर को खेला जाना है। इसके बाद दोनों टीमों के बीच तीन मैचों की टी20 इंटरनैशनल सीरीज खेली जानी है। 

वहीं ऑस्ट्रेलिया ने टी20 सीरीज से तेज गेंदबाज पैट कमिंस को आराम देने का फैसला लिया। वॉर्नर ग्रोइन स्ट्रेन से परेशान नजर आए थे। भारतीय पारी के चौथे ओवर में उन्होंने डाइव लगाई थी, जिसके बाद उन्हें उठने में परेशानी हो रही थी। इसके बाद वॉर्नर मैदान से बाहर चले गए थे और फिर नहीं लौटे थे। फिलहाल वॉर्नर का टेस्ट सीरीज में खेलना भी मुश्किल नजर आ रहा है। 

फिंच को वार्नर की चोट की जानकारी नहीं

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच ने कहा कि इस समय वार्नर की चोट को लेकर उनके पास कोई जानकारी नहीं है, लेकिन उन्हें लगता है कि वार्नर तीसरे वनडे के लिए उपलब्ध रहेंगे। तीसरा वनडे बुधवार को खेला जाएगा।

इसे भी पढ़ें :

AUS Vs IND : स्टीव स्मिथ ने रचा इतिहास, लगातार तीसरी बार ठोका शतक

AUS vs IND : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली बार टीम इंडिया के नाम दर्ज हुआ ऐसा अनचाहा रिकॉर्ड

भारत के सीमित ओवरों के उपकप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज लोकेश राहुल ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि बल्लेबाज डेविड वार्नर भारत के खिलाफ होने वाले तीसरे वनडे के लिए अपनी चोट से उबर नहीं पाएंगे।

राहुल ने कहा, "हमें नहीं पता कि उनकी चोट कितनी गंभीर है। यह अच्छा होगा, अगर वह लंबे समय के लिए चोटिल होते हैं। वह उनके मुख्य बल्लेबाज हैं। किसी के लिए ऐसी दुआ करना अच्छा नहीं है, लेकिन टीम के लिए यह अच्छा होगा। अगर उनकी चोट लंबे समय तक रहती है तो यह हमारी टीम के लिए अच्छा रहेगा।"

Advertisement
Back to Top