अब क्रिकेटर अभ्यास के दौरान नहीं जा पाएंगे शौचालय, अंपायर को नहीं सौंप सकते कैप

Cricket Players Wont Be Allowed To Use Toilet During Training - Sakshi Samachar

काउंसिल ने आगे के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए

खिलाड़ी अपने निजी सामान किसी को नहीं सौंप पाएंगे

दुबई : कोविड-19 महामारी के बाद जब खेल शुरू होगा तो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों को अपनी कुछ आम आदतों को बदलना पड़ेगा जैसे उन्हें अभ्यास के दौरान शौचालय जाने और मैदानी अंपायरों को अपनी कैप या सनग्लास सौंपने की अनुमति नहीं होगी। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के दिशानिर्देशों के अनुसार खिलाड़ी अपने निजी सामान जैसे कैप, तौलिया, सनग्लास, जंपर्स आदि अंपायर या साथियों को नहीं सौंप सकते और उन्हें शारीरिक दूरी बनाये रखनी होगी।

लेकिन यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि खिलाड़ियों का सामान कौन रखेगा। यही नहीं अंपायरों को भी गेंद को पकड़ते समय दस्तानों का उपयोग करना होगा। खिलाड़ी अपनी कैप और धूप के चश्मों को मैदान पर नहीं रख सकते क्योंकि इससे पेनल्टी रन जा सकते हैं जैसे कि हेलमेट के मामले में होता है। आईसीसी इसके साथ ही चाहती है कि खिलाड़ी मैच से पहले और मैच के बाद ड्रेसिंग रूम में कम समय बिताये।

आईसीसी क्रिकेट समिति पहले ही गेंद पर लार लगाने पर प्रतिबंध की सिफारिश कर चुकी है और अब खिलाड़ियों को गेंद छूने के बाद आंखें, नाक और मुंह स्पर्श नहीं करने की सलाह दी गयी है तथा गेंद के संपर्क में आने के बाद अपने हाथ साफ करने के लिये कहा गया है। अभ्यास के दौरान भी खिलाड़ियों की परेशानियां बढ़ सकती हैं क्योंकि उन्हें शौचालय का उपयोग करने की अनुमति नहीं होगी।

इसे भी पढ़ें : 

हरभजन ने सुझाया लार पर प्रतिबंध का समाधान, कहा-वनडे की तरह टेस्ट में भी शुरू हो ये काम

नवाज शरीफ की पत्नी के नाना थे गामा पहलवान, इन्हें नहीं हरा पाया दुनिया का कोई रेसलर

Advertisement
Back to Top