ये हैं साउथ सिनेमा के 10 बेहतरीन निगेटिव किरदार, जानिए कौन कौन हैं शामिल...

Best 10 Negative Roles of South Cinema - Sakshi Samachar

बॉलीवुड हो या फिर साउथ सिनेमा, हर जगह कलाकारों के बीच खुद को सर्वश्रेष्ठ साबित करने की रेस लगी हुई है। हर कलाकार, चाहे वह मुख्य ​अभिनेता के लीड रोल में हो या फिर मुख्य विलेन के नेगेटिव किरदार में, उसकी पूरी कोशिश होती है कि उसके इस किरदार को लोग वर्षों तक याद रखें।

अभिनय के दौरान हर कलाकार की ​कोशिश होती है कि उसके अभिनय की तारीफ हो, इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि वह फिल्म में हीरो बना है या फिर खलनायक, या फिर सहायक कलाकार, हर किरदार में उसकी कोशिश यही होती है कि दर्शक उसे हमेशा याद रखें और उसके काम की सराहना हो।

कुछ ऐसी ही भावना साउथ सिनेमा के इन कलाकारों की भी रही होगी, जब इन्होंने ये भूमिकाएं निभाई होंगी। तभी तो खलनायक के ​इन किरदारों में भी जान फूंकने के लिए उन्हें आज भी याद किया जाता है। आइए, एक नजर डालते हैं ऐसे ही किरदारों पर, जिनके लिए इन कलाकारों को आज भी याद किया जाता है...

प्रकाश राज (Prakash Raj)

यूं तो प्रकाश राज (Prakash Raj) ने अब तक कितने ही बेहतरीन किरदार निभाए हैं। वह एक बेहतरीन अभिनेता हैं और अब तक कितने ही किरदारों को बेहद संजीदगी और खूबसूरती से निभा चुके हैं। फिल्म असाई (Aasai) में प्रकाश राज ने माधवन (Madhavan) का किरदार निभाया था, जिसे नकारात्मक भूमिकाओं में उनका सर्वश्रेष्ठ काम बताया जाता है। हालांकि फिल्म ओकाडु (Okkadu) में प्रकाश राज ने ओबल रेड्डी (Obul Reddy) का नेगेटिव किरदार निभाया था, जिसे प्रशंसकों ने खूब सराहा।

रघुवरन (Raghuvaran)

भारतीय सिनेमा में दिवंगत अभिनेता रघुवरन (Raghuvaran) ने कितने ही ऐसे किरदार निभाए हैं, जिनकी खूब तारीफ की गई है। उन्होंने खासतौर पर साउथ इंडियन सिनेमा में काम किया है। नकारात्मक भूमिकाओं में से उनका सर्वश्रेष्ठ बता पाना आसान नहीं है। फिर भी कहा जा सकता है कि उनकी फिल्म पु​रीयाधा पु​धीर (Puriyaadha Pudhir) और फिल्म बाशा (Baasha) में निभाया गया मार्क एंटनी का किरदार जबरदस्त था।

सोनू सूद (Sonu Sood)

सोनू सूद (Sonu Sood) ने हिंदी, तमिल और तेलुगु, तीनों ही भाषाओं में फिल्में की हैं। अरुंधति फिल्म में निभाया गया उनका पशुपति का किरदार जबरदस्त था। अरुंधति में उनके बेहतरीन काम के लिए उन्हें फिल्मफेयर (Filmfare Award) का सर्वश्रेष्ठ सहायक कलाकार (Telugu) का अवार्ड दिया गया है।

सत्यराज (Sathyaraj)

रंगराज सुबैय्याह (Rangaraj Subbaiah) अपने स्टेज नेम सत्यराज (Sathyaraj) से ही लोकप्रिय हैं। तमिल फिल्मों में करियर की शुरुआत के दौरान ही उन्होंने यह नेगेटिव रोल निभाया था। फिल्म अ​मैधी पदाई (Amaidhi Padai) के नेगेटिव रोल अमावसाई (Amavasai) के लिए उन्हें बेहद सराहा गया। अमावसाई का उनका किरदार सबसे ज्यादा याद रखा गया।

अजीत कुमार (Ajith Kumar)

अजीत कुमार (Ajith Kumar) मुख्यत: तमिल फिल्मों में नजर आते हैं। वह एक बेहतरीन कलाकार हैं। तमिल (Tamil) और तेलुगु (Telugu) फिल्मों में अभिनय के जरिये उन्होंने एक रोमांटिक और एक्शन हीरो के तौर पर खुद को स्थापित किया है। वाली (Vaali) फिल्म में निभाए देवा Deva) के ​नेगेटिव किरदार को देखकर उनके अभिनय क्षमता का एहसास हो ही जाता है। इस किरदार ने अजीत की पर्सनैलिटी को नई ऊंचाइयों तक पहुंचा दिया। वहीं, फिल्म मनकथा (Mankatha) में निभाया गया उनका किरदार विनायक (Vinayak) आज भी कोई भूल नहीं पाता।

अभिमन्यु सिंह (Abhimanyu Singh)

अभिमन्यु सिंह ने हिंदी और तेलुगु फिल्मों में काम किया है। रक्त चरित्र 2 (Rakta Charitra 2) में निभाया गया उनका किरदार बुक्का रेड्डी (Bukka Reddy) बेहतरीन नकारात्मक किरदारों में से एक माना जाता है।

राम्या कृष्णन (Ramya Krishnan)

राम्या कृष्णन (Ramya Krishnan) ने तेलुगु और तमिल समेत अलग अलग भाषाओं की 200 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय किया है। फिल्म पदयप्पा (Padayappa) में उन्होंने नीलाम्बरी (Neelambari) का नकारात्मक किरदार निभाया और दर्शकों का दिल जीत लिया। इस फिल्म के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्मफेयर अवार्ड (Filmfare Award) से नवाजा गया।

राणा दग्गुबाती (Rana Daggubati)

राणा दग्गुबाती (Rana Daggubati) तमिल और तेलुगु फिल्मों के अलावा बॉलीवुड में भी एक्टिव हैं। राणा ने बाहुबली (Baahubali) में मुख्य खलनायक भल्लाल देव (Bhallala Deva) का किरदार निभाया था। अपने इस किरदार के लिए उन्हें खूब प्रशंसा भी मिली।

मुकेश ऋषि (Mukesh Rishi)

मुकेश ऋषि (Mukesh Rishi) एक ऐसे कलाकार हैं, जिन्हें उनके नकारात्मक भूमिकाओं के लिए खासतौर पर याद किया जाता है। उन्हें बॉलीवुड, तेलुगु और तमिल फिल्मों में अभिनय का मौका मिल चुका है। फिल्म जलसा (Jalsa) में दामोदर रेड्डी (Damodar Reddy) की नकारात्मक भूमिका के लिए मुकेश को आज भी सराहा जाता है।

जगपति बाबू (Jagapati Babu)

जगपति बाबू (Jagapati Babu) तेलुगु और तमिल फिल्मों में अभिनय करते हैं। फिल्म लीजेंड (Legend) में उन्होंने खलनायक जीतेन्द्र (Jitendar) का किरदार निभाया था। इस फिल्म के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सह कलाकार के फिल्मफेयर पुरस्कार से ​नवाजा गया। रजनीकांत (Rajinikanth) और महेश बाबू (Mahesh Babu) के साथ तेलुगु (Telugu) और तमिल (Tamil), दोनों ही भाषाओं की फिल्मों में मुख्य खलनायक की भूमिका के लिए इनकी डिमांड रहती है।

इससे पहले ऐसा भी हुआ था, जब उन्होंने रोमांटिक हीरो की भूमिका की और मुख्य अभिनेताओं की पंक्ति में शामिल हो गए थे। 50 पार करने के बाद अब उन्होंने एक सफल खलनायक के तौर पर खुद को स्थापित कर लिया है।

Advertisement
Back to Top