इतिहास रचेंगी भावना कांत, Republic Day पर पहली बार लड़ाकू विमान उड़ाएगी एक महिला

Bhavna kant become First female fighter pilot attend republic day parade - Sakshi Samachar

गणतंत्र दिवस में उनकी झांकी की थीम है 'मेक इन इंडिया'

राष्ट्रपति के हाथों नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित

हैदराबाद : भारत (India) में महिलाओं ने आर्मी के बाद एयर फोर्स में भी अपनी बेहतरीन जगह बनाने में कामयाबी हासिल की हैं। भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के फाइटर पायलट दल में शामिल होकर भावना कांत (Bhavna Kant) ने एक बड़ी कामयाबी अपने नाम की। लेकिन अब वो इससे भी बड़ा कारनामा करने जा रही हैं। भावना कांत पहली महिला फाइटर पायलट होंगी जो गणतंत्र दिवस (Republic Day) की परेड में शामिल होने वाली हैं।

भावना कांत भारतीय वायुसेना के फाइटर पायलट दल में शामिल की गई तीसरी महिला हैं। उन्हें पिछले साल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इस साल गणतंत्र दिवस की परेड में निकाली जाने वाली झांकी का वो हिस्सा होंगी जिसकी थीम है मेक इन इंडिया।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने इस उपलब्धि के लिए भावना कांत को बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा है, ‘भावना गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने वालीं पहली महिला फाइटर पायलट बनने जा रही हैं। ये पूरे देश के लिए गर्व का पल है’।

आसमान में दिखेंगे रफाल 

‘मेक इन इंडिया’ थीम पर आधारित इस झांकी में LCA तेजस, लाइट कॉम्बेट हेलीकॉप्टर, आकाश मिसाइल और सुखोई 30MKI के मॉडल्स को प्रदर्शित किया जाएगा। इसके अलावा, इस साल के गणतंत्र दिवस समारोह में कुल 42 एयरक्राफ्ट फ्लाईपास्ट करेंगे, जिसमें दो रफाल विमान शामिल हैं।

बिहार के दरभंगा जिले में घनश्यामपुर प्रखंड के बाऊर गांव की रहने वाली भावना ने मेडिकल इलेक्ट्रॉनिक्स में इंजीनियरिंग की है। उनके पिता इंजीनियर हैं जो रिफाइनरी टाउनशिप में कार्यरत हैं। फाइटर पायलट भावना की पढा़ई बरौनी रिफाइनरी डीएवी पब्लिक स्कूल से पूरी हुई है। वहीं इंजीनियरिंग बेंगलुरू के बीएमएस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से।

'टीवी पर देखी परेड अब खुद परेड का हिस्सा होंगी'

परेड में शामिल होने की खबर पर भावना ने कहा कि, वो बचपन से टीवी पर गणतंत्र दिवस की परेड देखती आई हैं। अब जब उन्हें इसमें शामिल होने का मौका मिल रहा है। इस बात से भावना काफी खुश हैं। भावना इस वक्त राजस्थान स्थित एयरबेस पर तैनात हैं, जहां वो मिग-21 बाइसन फाइटर प्लेन उड़ाती हैं।

आपको बता दें कि साल 2016 से पहले भारतीय वायुसेना में महिलाओं को फाइटर प्लेन चलाने की अनुमति नहीं थी। लेकिन अनुमति मिलने के 2 साल बाद ही भावना, अवनि और मोहना तीन महिला एयरफोर्स ऑफिसरों ने महिला फाइटर पायलट होने का गौरव प्राप्त किया था। तीनों को एक साल तक फाइटर प्लेन चलाने की ट्रेनिंग दी गई थी। उन्हीं में से भावना को साल 2021 में गणतंत्र दिवस परेड के लिए चुना गया है।

भारतीय वायुसेना की तरफ से मार्च में चार वायुसेना अधिकारी और 96 वायु सैनिक शामिल रहेंगे। परेड में 42 वायुसेना विमान और चार आर्मी एविऐशन हेलिकॉप्टर भी मौजूद रहेंगे।

कोरोना के कारण एहतियात बरतते हुए इस साल गणतंत्र दिवस की परेड को लेकर कुछ बदलाव किए गए हैं। ऐसा पहली बार है कि जब गणतंत्र दिवस की परेड लाल किले की बजाय नेशनल स्टेडियम में होगी। इस बार ज्यादा दर्शकों को भी अनुमति नहीं है। दर्शकों की संख्या घटाकर 25,000 कर दी गई है। 

Related Tweets
Advertisement
Back to Top