MP : कमलनाथ और दिग्विजय के खिलाफ चुनाव आयोग पहुंची भाजपा

BJP reached Election Commission against Kamal Nath and Digvijay - Sakshi Samachar

कांग्रेस पर लगाया कर्मचारियों को धमकाने का आरोप

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से की शिकायत

संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करना कांग्रेस की पुरानी आदत

भोपाल : विधानसभा उपचुनाव वाले मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर कर्मचारियों को धमकाने का आरोप लगाते हुए इसकी शिकायत मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से की है। प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने प्रतिनिधिमंडल के साथ मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह द्वारा सरकारी अधिकारियों एवं चुनाव आयोग पर दबाव बनाकर शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न करने की शिकायत की। 

साथ ही कांग्रेस नेताओं द्वारा सरकारी कर्मचारियों पर अपमानजनक टिप्पणी करने की शिकायत करते हुए कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के चुनाव प्रचार पर रोक लगाने की मांग की। प्रतिनिधिमंडल ने एक अन्य शिकायत पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव एवं पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया के खिलाफ की, जिसमें पार्टी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए अपमानजनक शब्द का इस्तेमाल करते हुए उन पर तथ्यहीन, झूठे आरोप लगाए जाने का जिक्र है।

जानें भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने क्या कहा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा का कहना है कि कांग्रेस पार्टी को न न्यायालय पर विश्वास है, न चुनाव आयोग पर। संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करना कांग्रेस की पुरानी आदत रही है। कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने जिस तरह से प्रदेश के अधिकारी-कर्मचारियों को धमकाया है, जिस तरह से मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी पर दबाव बनाने का प्रयास किया है, यह एक आपराधिक कृत्य है और भाजपा इन नेताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करती है।

इसे भी पढ़ें : 

मप्र उपचुनाव : कमलनाथ और दिग्विजय पर सिंधिया का हमला, बताया 'सबसे बड़ा गद्दार'

शर्मा ने कहा कि चुनाव आयोग के अधीन काम कर रहे प्रदेश के सरकारी अधिकारी व कर्मचारियों के प्रति कांग्रेस नेता कमल नाथ और दिग्विजय सिंह ने जिस तरह की भाषा का प्रयोग किया है, जिस तरह से उन्हें 10 तारीख के बाद देख लेने की धमकी दी है, वह ईमानदारी से काम कर रहे इन कर्मचारियों की निष्ठा पर संदेह जताने जैसा है, आचार संहिता का उल्लंघन है और एक आपराधिक कृत्य भी है।

Advertisement
Back to Top