जिस डॉक्टर ने किया था अमित शाह का इलाज, अब उसके पास पहुंची ये चिट्ठी

Home Minister Amit Shah Writes Letter To Doctors - Sakshi Samachar

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पहुंचे घर

अमित शाह ने डॉक्टर को लिखा पत्र

इलाज और देखरेख के लिए जताया आभार

नई दिल्ली : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कोरोना से ठीक होने के बाद भी कई बार हॉस्पिटल में एडमिट हो चुके हैं। हालांकि अस्पताल की तरफ से सिर्फ रूटिन चेकअप की बात ही कही जाती है। अब अमित शाह ने इलाज करने वाले डॉक्टर को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र के माध्यम से डॉक्टर का आभार जताया है।

गृह मंत्री अमित शाह ने इलाज करने वाले वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज एवं सफदरजंग हॉस्पिटल के डॉक्टर सिद्धार्थ को पत्र लिखा है। पत्र में अमित शाह ने लिखा है कि कोरोना संक्रमण से ग्रसित होने के कारण अस्पताल में दाखिल हो गया था। ईश्वर की कृपा और आपके प्रयासों से अब मैं स्वस्थ होकर अपने निवास पर लौट आया हूं। दो सप्ताह में आपने जिस तरह दिन-रात मेरी देखभाल की, उसके लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं।

लोकसभा की कार्यवाही में भाग ले सकते हैं अमित शाह

कोविड-19 के संक्रमण से उबरने और पूर्ण चिकित्सा जांच से गुजरने के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के शनिवार को लोकसभा के मानसून सत्र कार्यवाही में शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही। गौरतलब है कि उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) से दो दिन पहले ही छुट्टी मिली है।

लोकसभा में शनिवार के लिए कार्यवाही की संशोधित सूची में उनके नाम का उल्लेख किया गया है, जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि शाह नेशनल फॉरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी बिल, 2020 को पारित करने के लिए निचले सदन में शामिल होंगे। 

अमित शाह का नाम विधायी कार्यक्रम सूची में उल्लिखित है, जो विधेयक को पारित कराने के लिए है। यह विधेयक अध्ययन और अनुसंधान को सुविधाजनक बनाने और विज्ञान के अध्ययन, कानून के साथ फोरेंसिक विज्ञान, अपराध विज्ञान और अन्य संबद्ध क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए राष्ट्रीय महत्व के संस्थान के रूप में नेशनल फोरेंसिक विज्ञान यूनिवर्सिटी की स्थापना और उसकी घोषणा करता है।

गृह मंत्री का नाम राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय विधेयक, 2020 पर विचार और पारित होने के लिए उसे आगे बढ़ाने को लेकर भी सूचीबद्ध है। विधेयक के माध्यम से राष्ट्रीय महत्व की एक संस्था और इसके निगमन और इससे जुड़े मामलों के लिए राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय के रूप में एक संस्थान की स्थापना और उसकी घोषणा करना चाहते हैं। अमित शाह को पूर्ण चिकित्सा जांच के लिए भर्ती कराए जाने के बाद गुरुवार शाम को एम्स से छुट्टी दे दी गई थी।

Advertisement
Back to Top