आप को हैरान कर देंगी दुनिया की ये पांच अजीबोगरीब सजाएं...

  Worlds Five Most Weird and Unusual Punishments - Sakshi Samachar

30 दिन के भीतर उसके माता-पिता का घर छोड़ना की सजा

10 साल तक हर दिन चर्च जाना

गृहनगर में एक गधे के साथ मार्च

दुनिया में किसी भी अपराधी को उसके अपराध की सजा जरूर मिलती है और अधिकतर जगहों पर सजा अपराध की गंभीरता पर निर्भर करती है, लेकिन कई देशों में कुछ अपराधों  के लिए अजीबोगरीब सजाएं सुनाई जाती रही हैं। आइए आज हम 5 ऐसे अजीबोगरीब सजाओं का जिक्र करेंगे  जिन्हें जानकार आप दांतों तले उंगली चबा बैठेंगे।

1.अलग-अलग देशों में सजा के अलग-अलग प्रावधान होता हैं। जैसा कि सैकड़ों हिरणों का शिकार करने वाले एक व्यक्ति को वहां की अदालत ने एक अजीबोगरीब सजा सुनाई। अमेरिका के मिसौरी के रहने वाले डेविड बेरी नाम के व्यक्ति ने सैकड़ों हिरणों का शिकार किया था। 2018 में जब यह शख्स दोषी पाया गया तो अदालत ने उसे एक साल तक जेल में रहकर महीने में कम से कम एक बार डिज्नी का बाम्बी कार्टून देखने की सजा सुनाई थी।

2. स्पेन में इसी तरह की एक सजा सुनाई गई थी। स्पेन के एंडालूसिया में एक युवक ने उसे पॉकेट मनी देना बंद करने वाले अपने ही माता-पिता के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया था। परंतु अदालत ने उल्टा युवक को  30 दिन के भीतर उसके माता-पिता का घर छोड़ने और अपने पैरों पर खड़ा होने की सजा सुनाई।

3.साल 2008 में ब्रिटेन में कार में तेज आवाज में म्यूजिक सुनने  पर एंड्रयू वेक्टर नामक व्यक्ति पर अदालत ने 120 पाउड यानि करीब 11 हजार रुपए का जुर्माना लगाया। वेक्टर कार में अपना पसंदीदा म्यूजिक रेप सुन रहे थे। हालांकि बाद में अदालत ने जुर्माने की राशि घटाकर 30 पाउंड करने की बात कही, लेकिन इसके लिए वेक्टर के सामने बशर्ते 20 घंटे तक बीथोवन, बाख और शोपेन का शास्त्रीय संगीत सुनने की शर्त रखी।

साल भर ड्रग और शराब का टेस्ट कराने की सजा

4.अमेरिका के ओकलाहोमा में  वर्ष 2011 में एक 17 वर्षीय युवक को शराब पीकर गाड़ी चलाने और उसके दोस्त की मौत का कारण बनने पर अदालत ने अजीबोगरीब सजा सुनाई। ओकलाहोमा के रहने वाले टाइलर एलरेड के शराब पीकर गाड़ी  चलाने  की वजह से उसके एक दोस्त की मौत हो गई।  उस वक्त टाइलर स्कूल में पढ़ता था। इसलिए अदालत ने उसे स्कूल और डिग्री की पढ़ाई पूरी करने के अलावा एक साल तक शराब, ड्रग्स और निकोटिन टेस्ट करवाने और  10 साल तक हर दिन चर्च जाने की सजा सुनाई।

गधे के साथ मार्च करने की सजा

5.साल 2003 में अमेरिका के शिकागो में रहने वाले दो लड़कों ने क्रिसमस की शाम चर्च से ईसा मसीह की मूर्ति चुराई थी और उसे नुकसान पहुंचाया था। इस जुर्म का दोषी पाते हुए दोनों को 45 दिन के लिए जेल की सजा सुनाई गई थी। इसके अलावा उन्हें अपने गृहनगर में एक गधे के साथ मार्च करने का भी आदेश दिया गया था।

Related Tweets
Advertisement
Back to Top