CM उद्धव ठाकरे बोले- अचानक खत्म नहीं कर सकते लॉकडाउन,और खराब हो सकते हैं हालात

Uddhav Thackeray Said - Lock down cannot Stop Suddenly - Sakshi Samachar

मुंबई :  कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को सोशल मीडिया जरिए जनता को कोविड-19 के मुद्दे पर संबोधित किया। ठाकरे ने लॉकडाउन के लिए धन्यवाद करते हुए कहा कि इसकी वजह से ही अनुमान से कम कोरोना के मामले सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि दरअसल मैने अनुमान लगाया गया था कि मई अंत तक महाराष्ट्र में 1.15 लाख कोरोना के पॉजिटिव आंकड़े सामने आ सकते हैं, लेकिन अभी तक राज्य में 33,786 कोरोना मरीज हैं। तकरीबन 13,404 मरीज ठीक हो चुके हैं।' उन्होंने कहा कि इसके पीछे की वजह लॉकडाउन का लागू होना और लोगों का अनुशासित होना है।

एक बार में खत्म नहीं कर सकते लॉकडाउन

मीडिया से बात करते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे  ने कहा,  पिछले कुछ दिनों में हमने कोरोना संक्रमण के मामलों में इजाफा देखा है  जो आगे भी बना रह रह सकता है। हमें अगर कोरोना महामारी से बचना है तो सोशल डिस्टेंसिंग को लगातार फॉलो करते रहना होगा। वहीं लॉकडाउन को लेकर ठाकरे ने कहा कि अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था। 31 मई की लॉकडाउन समय सीमा पर, उन्होंने कहा कि "हम इसे एक बार में समाप्त नहीं कर सकते हैं।" 

और बढ़ सकते कोरोना के मामले, पर हम स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ तैयार

मुख्यमंत्री ने मानसून के मौसम के बारे में भी आगाह किया है, जो संबंधित बीमारियों और मौसमी संक्रमणों के जरिए भी फैलने की संभावना है इसलिए हमे ज्यादा सावधानियां बरतनी होगी। अब कोरोना वायरस के मामले और बढ़ेंगे। हम इसके लिए अस्पताल बना रहे हैं। अभी हमारे पास अस्पतालों में सात हजार बेड उपलब्ध हैं, लेकिन मई के अंत तक इसे 14 हजार उपलब्ध होंगे। उन्होंने ने कहा कि "कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई अब कठिन होने जा रही है, लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि हम अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ तैयार हैं।''

महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले
कोरोनोवायरस संक्रमण को बढ़ाने का खामियाजा महाराष्ट्र लगातार उठा रहा है। रविवार की सुबह तक, स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, राज्य में 47,190 कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं। महाराष्ट्र में कोविड -19 की मौत 1,577 हो गई है, जबकि 13,000 से अधिक कोरोनोवायरस रोगियों ने संक्रमण को हरा दिया है और राज्य भर के अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है।

मुंबई, ठाणे, पुणे महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा प्रभावित जिले हैं। मुंबई में कोविद -19 मामलों ने 28,000 का आंकड़ा पार कर लिया है, जबकि 949 मरीजों ने देश की वित्तीय राजधानी में कोरोनावायरस के कारण दम तोड़ दिया। ठाणे में संक्रमण के 6,000 से अधिक मामले और 85 मौतें हुई हैं। पुणे में, कोविड -19 मामले उछलकर 5,347 जबकि 257 की मौत हो गई है।

Advertisement
Back to Top