बॉलीवुड की 'थाली में छेद' की चिंता करने वालों को देश की थाली की चिंता नहीं : भाजपा

Those who worried about Bollywood are not worried about the country: BJP - Sakshi Samachar

जया बच्चन के सदन में दिए गए बयान को लेकर तंज

बॉलीवुड की चिंता करने वालों को देश की नहीं चिंता

जिन पर सवाल उठेगा, उन सबकी जांच होनी चाहिए

पटना: सुशांत सिंह राजपूत की मौत मिस्ट्री ने एक ओर जहां बॉलीवुड में दफन कई राज पर से पर्दा उठाना शुरू कर दिया है, वहीं, बॉलीवुड और राजनीति से जुड़े कई कलाकारों व नेताओं के बीच तूतू-मैंमैं की स्थिति पैदा कर दी है।

जया बच्चन के सदन में दिए गए बयान को लेकर तंज

समाजवादी पार्टी नेता व बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री जया बच्चन ने जब से संसद में यह मुद्दा उठाया है, उसके बाद से तो इस पर उन नेताओं की भी बयानबाजी शुरू हो गई है, जिन्होंने राजनीति की दुनिया में कदम बॉलीवुड के रास्ते से किया है। इसी क्रम में बिहार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शनिवार को अभिनेत्री और सांसद जया बच्चन के सदन में दिए गए बयान को लेकर तंज कसा है।

बॉलीवुड की चिंता करने वालों को देश की नहीं चिंता

बिहार भाजपा के प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने कहा कि बॉलीवुड की थाली में छेद की चिंता करने वाले लोग देश की थाली में छेद करके बेशर्म बने घूमने वालों पर चुप्पी साध लेते हैं।

आनंद ने यहां शनिवार को कहा कि बॉलीवुड में बड़े नामवाले अपने नाम की बुनियाद पर आरोप लगने के बावजूद छूटना चाहते हैं, लेकिन उन्हें मालूम होना चाहिए कि कानून की नजर में सभी बराबर हैं।

जिन पर सवाल उठेगा, उन सबकी जांच होनी चाहिए

उन्होंने कहा कि करण जौहर हों या कोई भी, जिन पर सवाल उठेगा, उन सबकी जांच होनी चाहिए। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदेहास्पद मृत्यु के बाद सीबीआई जांच शुरू हुई, फिर एनसीबी और ईडी की जांच में भी बातें सामने आ रही हैं और चेहरे बेनकाब हो रहे हैं।

बॉलीवुड के जन्नत की हकीकत ही कुछ और

उन्होंने कहा, "अब पता चल रहा है कि ये जो ख्वाबों की दुनिया वाली बॉलीवुड है, उसके जन्नत की हकीकत ही कुछ और है। बॉलीवुड में बाबा- बेबी, मूवी माफिया, ड्रग माफिया और अंडरवर्ल्ड, सबके तार एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। इन सभी समाज विरोधी और देश विरोधी तत्वों और उनकी गतिविधियों की जांच होनी चाहिए।"

भाजपा नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि महाराष्ट्र सरकार नहीं चाहती कि सुशांत और उनकी पूर्व मैनेजर दिशा साल्यान के मामले की हकीकत सामने आए, यही कारण है कि महाराष्ट्र सरकार मामले को दूसरा रंग देकर भटकाने में लगी हुई है।
-आईएएनएस

Advertisement
Back to Top