सुशांत की रानी दीदी ने राखी पर लिखा इमोशनल पोस्ट, 35 साल में पहली बार वो कलाई नहीं जिस पर राखी बांध सकूं

Sushant Singh Sister Rani Didi is Missing Rajput, Wrote Emotional Letter on Rakhi - Sakshi Samachar

सुशांत की रानी दीदी ने लिखा इमोशनल लेटर

रानी दीदी ने कहा था, मेरा भाई खो रहा है

रानी दीदी की बात कभी नहीं टालते थे सुशांत

नई दिल्ली : आज राखी है। चार बहनों के एकमात्र भाई सुशांत सिंह राजपूत को आज उनकी बहनों के साथसाथ पूरा देश मिस कर रहा है। उस दर्द को महसूस कर पा रहा है जो उनकी बहनों के दिल में है। हालांकि उस दर्द को बांटने का सलीका और जज्बा, दोनों ही किसी और के पास नहीं। शायद यही वजह है कि चार बहनों के अकेले भाई के चले जाने का गम कितनों को ही आज सालता जा रहा है।

ऐसे में जब राखी के दिन सुशांत की बहनें उन्हें मिस कर रही हैं और इमोशनल पोस्ट लिख रही हैं, तो पूरा देश उनके गम में शरीक होना चाहता है। बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत का निधन 14 जून को उनके बांद्रा स्थित फ्लैट में हुआ था। सुशांत के अचानक चले जाने के गम से उनके परिवारवाले अभी तक उबर नहीं पाए हैं। सुशांत के अलविदा कह जाने से उनकी बहनें राखी के मौके पर अपने भाई को बेहद मिस कर रही हैं। हर साल की तरह वे अब सुशांत को कभी राखी नहीं बांध पाएंगी। इसी दुख को जताते हुए सुशांत की बहन रानी ने इमोशनल नोट लिखा है।

क्या लिखा सुशांत की बहन ने?

गुलशन, मेरा बच्चा

आज मेरा दिन है।

आज तुम्हारा दिन है।

आज हमारा दिन है।

आज राखी है।

पैंतीस साल के बाद ये पहला अवसर है जब पूजा की थाल सजी है। आरती का दीया भी जल रहा है। हल्दी-चंदन का टीका भी है। मिठाई भी है। राखी भी है। बस वो चेहरा नहीं है जिसकी आरती उतार सकूं। वो ललाट नहीं है जिसपर टीका सजा सकूं। वो कलाई नहीं जिस पर राखी बांध सकूं। वो मुंह नहीं जिसे मीठा कर सकूं। वो माथा नहीं जिसे चूम सकूं। वो भाई नहीं जिसे गले लगा सकूं।

वर्षों पहले जब तुम जब आए थे तो जीवन जगमग हो उठा था। जब थे तो उजाला ही उजाला था। अब जब तुम नहीं हो तो मुझे समझ नहीं आता कि क्या करूं? तुम्हारे बगैर मुझे जीना नहीं आता। कभी सोचा नहीं कि ऐसा भी होगा। ये दिन होगा पर तुम नहीं होगे। ढेर सारी चीजें हमने साथ-साथ सीखी। तुम्हारे बिना रहना मैं अकेले कैसे सीखूं। तुम्हीं कहो।

हमेशा तुम्हारी

रानी दी

इसे भी पढ़ें: सुशांत मामला: जांच के लिए मुंबई पहुंचे पटना SP को BMC ने जबरन किया क्वारंटाइन, ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा, बीएमसी बोली, केंद्र की गाइडलाइन का कर रहे हैं पालन, बिहार के सीएम नीतीश ने कहा, जो हुआ अच्छा नहीं हुआ #BabyPenguin

बता दें, सुशांत सिंह के सुसाइड करने की वजह की तहकीकात दो राज्यों की पुलिस कर रही है। बिहार पुलिस मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंची है। वहीं पहले से इस केस की जांच कर रही मुंबई पुलिस पर बिहार पुलिस ने सहयोग ना करने का आरोप लगाया है। दोनों राज्यों की पुलिस के बीच सुशांत केस को लेकर खींचतान चल रही है। वहीं सुशांत सिंह राजपूत का परिवार न्याय और मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहा है।

रानी दीदी ने कहा था, मेरा भाई खो रहा है

हाल ही में दिए गए एक इंटरव्यू में अंकिता लोखंडे ने कई खुलासे किए इस इंटरव्यू में अंकिता ने ये भी बताया कि नवंबर साल 2019 में सुशांत की बड़ी बहन रानी ने उनसे बात की थी। इस दौरान रानी काफी चिंतित थी और उनकी चिंता का कारण कोई और नहीं बल्कि भाई सुशांत सिंह राजपूत ही थे। अंकिता लोखंडे ने बताया कि मेरी सुशांत की बहनों और पिता से बहुत अच्छी बॉन्डिंग है। अंकिता ने कहा- साल 2019 में नवंबर के महीने में सुशांत के डेंगू होने की जानकारी सामने आई थी। इसी दौरान उनकी बहन रानी सुशांत से मिलने के लिए आई थी और सुशांत को अपने साथ चलने के लिए कहा था। हैरानी की बात तो ये है कि सुशांत तैयार भी हो गए थे लेकिन आखिरी समय पर उन्होंने बिना कोई कारण बताए बहन रानी के साथ आने से मना कर दिया था।

इसी को लेकर रानी ने अपना दुख अंकिता लोखंडे से बयां किया था। अंकिता ने बताया रानी ने मुझसे कहा- मुझे सुशांत पर किसी तरह का दबाव महसूस हुआ क्योंकि सुशांत कभी भी अपनी रानी दीदी के खिलाफ नहीं जाते थे। मां के बाद रानी दीदी थी, जिनकी सुशांत सुनते थे। अंकिता ने कहा मैं रानी दीदी की यह बात सुनकर हैरान रह गई क्योंकि ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था कि सुशांत रानी दीदी के खिलाफ हो गए हों। अंकिता ने बताया कि सुशांत की बहन ने उनसे कहा कि मुझे लगता है कि मेरा भाई खो रहा है।

रानी दीदी की बात कभी नहीं टालते थे सुशांत

हालांकि अंकिता तब सुशांत की जिंदगी से बिल्कुल बाहर थी इसलिए अंकिता ने ज्यादा कुछ नहीं कहा बस रानी को सांत्वना दी और सुशांत को कुछ वक्त देने के लिए कहा। अंकिता ने ये भी बताया कि सुशांत की बहन रानी उस वक्त बेहद चिंता में थी, उनको लग रहा था कि कोई ऐसा व्यक्ति है, जो सुशांत पर दबाव बना रहा है, उन्हें प्रभावित कर रहा है। पिछले एक साल में सुशांत ने अपनी बहनों से खुद को काफी दूर कर लिया था। ये रानी ने अंकिता को बताया था।

आपको बता दें अंकिता ने एक इंटरव्यू में और भी कई खुलासे किए। उन्होंने बताया कि साल 2016 में ब्रेकअप के बाद से ही वो और सुशांत एक दूसरे के संपर्क में नहीं थे। ना ही दोनों के पास एक दूसरे का फोन नंबर था और ना ही कभी दोनों ने एक दूसरे को कांटेक्ट करने की कोशिश की लेकिन अंकिता ने ये भी कहा कि वो सुशांत को अपनी जिंदगी में आगे बढ़ते देख काफी खुश होती थी।

Advertisement
Back to Top