लोगों का छूट रहा व्हाट्सप से लगाव, 82.2 फीसदी भारतीय छोड़ने को तैयार

survey 82.2 percent Indians are ready to leave WhatsApp - Sakshi Samachar

36 फीसदी व्हाट्सएप का यूज कम कर देंगे 

17 फीसदी नई पॉलसी के साथ भी करेंगे यूज

नई दिल्ली: व्हाट्सएप (WhatsApp) की नई पॉलिसी उसके गले की फांस बन गई है। भारत (India) में व्हाट्सएप के यूजर्स पूरी दुनिया के मुकाबले सबसे ज्यादा हैं। हाल ही में यदि भारत के लोग व्हाट्सएप का बहिष्कार (Boycott) करते हैं, तो बहुत बड़ा नुकसान होगा।

हालांकि कंपनी लगातार अपनी सफाई पेश कर रही है। लेकिन व्हाट्सएप से लोगों का मोह खत्म हो रहा है। इसका ताजा प्रमाण एक पोल से मिला है। पोल में शामिल 82.8 फीसदी लोगों ने कहा कि वे व्हाट्सएप को छोड़ देंगे।

पोल में सवाल था कि यदि व्हाट्सएप ने अपनी नई निजता नीति को वापस नहीं लिया तो आप क्या करेंगे? इस सवाल के जबाव में 82.8 फीसदी लोगों ने कहा कि वे व्हाट्सएप को बंद कर देंगे और अन्य 17.2 फीसदी लोगों ने कहा कि वे नई पॉलसी के साथ भी व्हाट्सएप का इस्तमाल जारी रखेंगे। 

इससे पहले भी एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि भारत में 82 फीसदी लोग नई पॉलिसी के साथ व्हाट्सएप इस्तमाल नहीं करना चाहते हैं। यानी महज 18 फीसदी ही लोग हैं जो नई पॉलिसी के लागू होने के बाद भी व्हाट्सएप का इस्तमाल करने के लिए राजी हैं। सर्वे में कहा गया है कि 36 फीसदी लोग व्हाट्सएप का इस्तमाल कम कर देंगे। 

यह भी पढ़ें: Whatsapp कंपनी को केंद्र सरकार ने लिखी चिट्ठी, नई प्राइवेसी पॉलिसी वापस लेने का दिया निर्देश

बता दें कि व्हाट्सएप ने अपनी नई प्राईवेसी पॉलिसी को लेकर पहली बार अपने यूजर्स को नोटिफिकेशन भेजा था, लेकिन नई पॉलिसी उसके लिए बड़ी मुसीबत बन गई। नई पॉलिसी जारी होने के महज सात दिनों में भारत में उसका डाउनलोड 35 फीसदी कम हुआ है। इसके अलावा 40 लाख से अधिक यूजर्स ने सिग्नल और टैलीग्राम ऐप डाउनलोड किया है। 

 

Advertisement
Back to Top