अमर सिंह के निधन के बाद अखिलेश को याद आए अंकल, कहा- खो दिया मार्गदर्शक

SP Chief Akhilesh Yadav Paid Tribute To His Uncle Amar Singh - Sakshi Samachar

अखिलेश यादव ने दी अमर सिंह को श्रद्धांजली

अमर सिंह को अंकल कहकर बुलाते थे अखिलेश

नई दिल्ली :  पूर्व समाजवादी पार्टी नेता और राज्यसभा सदस्य  अमर सिंह का 64 साल की आयु में शनिवार की दोपहर बाद निधन हो गया। अमर सिंह काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे और करीब छह महीने से उनका सिंगापुर में इलाज किया जा रहा था। उनके निधन के बाद सपा सुप्रीम अखिलेश यादव ने सोशल  मीडिया पर श्रद्दांजली दी है।

अमर सिंह के निधन के बाद ट्वीटर अखिलेश ने उन्हें श्रद्धांजली दते हुए कहा कि श्री अमर सिंह जी के स्नेह-सान्निध्य से वंचित होने पर भावपूर्ण संवेदना एवं श्रद्धांजलि। 

अमर सिंह को अंकल कहकर बुलाते थे अखिलेश
एक समय ऐसा था जब कहा जाता था अमर सिंह और अखिलेश के बीच शुरू से ही कड़वाहट थी, लेकिन ऐसा नहीं है।  मुलायम के मुख्यमंत्रित्व काल में जब अमर सिंह सपा सुप्रीमो के खास हुआ करते थे, अखिलेश उन्हें अंकल कहकर बुलाते थे। हालांकि 2007 में मुलायम के विधानसभा चुनाव हारने के बाद अखिलेश सैफई के आंगन से निकल यूपी के सियासी मैदान में खड़े हो गए हैं। 

अपनी शादी के वक्त अमर सिंह के काफी करीब थे अखिलेश
एक समय में समाजवादी पार्टी में अमर सिंह की हैसियत ऐसी थी कि उनके चलते आजम खान, बेनी प्रसाद वर्मा जैसे मुलायम के नजदीकी नाराज होकर पार्टी छोड़ गए, लेकिन मुलायम का अमर पर भरोसा बना रहा।  अमर सिंह और अखिलेश के रिश्तों में सबसे ज्यादा मिठास डिंपल के साथ उनकी शादी के समय थी। दरअसल, कहा जाता है कि अखिलेश और डिंपल की शादी के लिए मुलायम सिंह यादव पहले तैयार नहीं थे, लेकिन ये अमर सिंह ही थे जिन्होंने मुलायम को इस शादी के लिए तैयार किया। साल 2010 में अमर सिंह को समाजवादी पार्टी से बाहर निकाल दिया गया। हालांकि 2016 में अमर सिंह की एक बार फिर समाजवादी पार्टी में वापसी हुई लेकिन एक साल बाद ही अमर सिंह को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

शिवपाल ने भी दी अमर को श्रद्धांजली
अमर के निधन के बाद मुलायम सिंह के भाई और अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है। शिवपाल ने लिखा  प्रिय मित्र श्री अमर सिंह जी के निधन की दुःखद खबर से निःशब्द हूं, स्तब्ध हूं और बेहद मर्माहत हूं। उनका जाना मेरी व्यक्तिगत क्षति है।  ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत की आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें और शोकाकुल परिवार व समर्थकों को यह दुःख सहने की शक्ति दें। श्रद्धांजलि...

आजमगढ़ में हुआ था जन्म 
अमर सिंह का जन्म  आजमगढ़ के कारोबारी परिवार में हुआ था। इसके बाद अमर सिंह का बचपन और युवावस्था के दिन कोलकाता में बीते थे। जहां वे बिड़ला परिवार के संपर्क में आए और केके बिरला का भरोसा हासिल करने के बाद दिल्ली पहुंच गए। बिड़ला और भरतिया परिवार की नज़दीकियों के चलते एक समय में अमर सिंह हिंदुस्तान टाइम्स के निदेशक मंडल में भी रहे। इसके बाद से ही उनका राजनीतिक जीवन शुरू हुआ। 

Advertisement
Back to Top