दिल्ली महिला कांग्रेस नेत्री ने UP पुलिस पर लगाया चीर हरण का आरोप, DCP ने दिया ये जवाब

Shame : Up Police Tored Delhi Woman Congress Presidents Amrita Dhawan Clothes - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा आज जो कुछ भी किया गया वह बेहद शर्मनाक है। आज की एक और शर्मसार करने वाली तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हो रही हैं। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फोटो में पुलिस ने दिल्ली महिला कांग्रेस की अध्यक्ष अमृता धवन के कपड़े फाड़ दिए। इसके बाद वह सड़क किनारे जाकर खुद को चुनरी से बचाते हुए नजर आईं। 

दरअसल, आज सांसद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने के लिए ग्रेडर नोएडा एक्सप्रेस पर जैसे ही पहुंचे तो यूपी पुलिस ने उनके साथ धक्का-मुक्की की और गिरफ्तार कर लिया। इसी धक्का-मुक्की के बीच कुछ लोगों ने दिल्ली महिला कांग्रेस की अध्यक्ष अमृता धवन के कपड़े फाड़ दिए। अमृता धवन ने यूपी पुलिस पर चीर-हरण का आरोप लगाया है। 

उनका कहना है कि यूपी पुलिस ने राहुल गांधी की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ धक्कामुकी करना शुरू कर दिया है। करीब 200 से 300 से पुलिसकर्मियों ने धावा बोलकर और लोगों के कपड़े फाड़े। उनका का आरोप है कि यूपी पुलिस ने उनके भी कपड़े फाड़े हैं। उधर, नोएडा पुलिस इन आरोपों को खारिज किया है।

यूपी पुलिस के खिलाफ अपना रोष प्रकट करने के लिए अमृता धवन ने किया ट्वीट किया है, उन्होंने ट्वीट में कहा है योगी-मोदी के संस्कारो का प्रमाण है, ये Face with cold sweat ताक़त दिखानी है तो अपराधियों तक दिखाओ , हमारा चीर हरण करके क्या हासिल होगा ??? याद रखना द्रौपदी चीर हरण और सीता हरण का अंत कहाँ जाकर थमा था !!

वंदना के ट्वीट पर डीसीपी का जवाब
वहीं वंदना के इस ट्वीट पर डीसीपी ने जवाब दिया है। DCP महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने दिया जवाब ट्वीट को री-ट्वीट कर DCP ने कहा कि मैं इस प्रदर्शन के दौरान वहां उपस्थित थी। प्रदर्शन स्थल पर महिला पुलिस कर्मी ड्यूटी पर तैनात थीं। उन्होंने यह भी कहा है कि नोएडा पुलिस ने अमर्यादित काम नहीं किया है।

कौन हैं अमृता धवन
अमृता धवन को हाल ही में दिल्ली महिला कांग्रेस अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई है। उन्हें प्रणव मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी की जगह पर ये जिम्मेदारी सौंपी गई। अमृता भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) की राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष रही थीं। वह डूसू की अध्‍यक्ष पद पर रह चुकी हैं। जब अमृता को एनएसयूआइ की अध्‍यक्ष बनी थीं तब वह छात्र-छात्राओं के लिए काफी काम किया। हर वक्‍त वह उनकी मदद के लिए उपलब्‍ध रहती थीं। खासकर युवाओं का साथ उन्‍हें खूब मिलता था। देश भर में ज्‍यादा-ज्‍यादा से छात्रों को संगठन से जोड़ने के लिए उन्‍होंने खूब प्रयास किया था।

दिल्‍ली के भारती कॉलेज से की है पढ़ाई
अमृता मूल रूप से दिल्ली की रहने वाली हैं। अमृता 2004 में दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ (डूसू) सचिव, 2005 में डूसू उपाध्यक्ष और 2006 में डूसू अध्यक्ष बनीं। उन्होंने भारती कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के बाद कैंपस लॉ सेंटर से कानून की पढ़ाई की है।

Advertisement
Back to Top