किसानों का 'दिल्ली चलो' आंदोलन जारी, यूपी में तीन जगहों पर हाईवे जाम

punjab haryana uttar pradesh farmers protest against Agriculture laws - Sakshi Samachar

नई दिल्ली: किसानों का कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन आज भी जारी है और अब अधिक आक्रामक होता जा रहा है। गुरुवार को पंजाब(Punjab) से चले किसानों का पंजाब-हरियाणा बॉर्डर पर पुलिस के साथ संघर्ष हुआ।

दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर(Delhi-Haryana Border) पर भी हालात तनावपूर्ण रहे। शुक्रवार सुबह किसान(Farmers) पुलिस की सारी रोक हटाकर रोहतक पहुंच गए। वहीं यूपी(Uttar pradesh) के किसानों भी आज सड़कों पर उतरने का ऐलान कर चुके हैं। यूपी के मेरठ, मुजफ्फरनगर और बागपत में भी किसानों ने हाईवे को जाम कर दिया है।

भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत का कहना है कि हम यूपी से दिल्ली की ओर मार्च करेंगे या नहीं जल्द तय होगा। हम केंद्र सरकार के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. राकेश टिकैत ने किसानों पर लिए गए हरियाणा सरकार के एक्शन की निंदा की।

किसानों की हरियाणा से दिल्ली में एंट्री को कोशिश में सिंधु बॉर्डर पर एक बार फिर हालात बिगड़ते हुए दिख रहे हैं। पुलिस की ओर से किसानों पर आंसू गैस के गोले दागे गए हैं। जिससे किसान कुछ पीछे हटे हैं लेकिन कोई वापस नहीं गया है।

आज किसानों के प्रदर्शन के कारण कई मेट्रो स्टेशन के गेट्स को बंद कर दिया गया है। ग्रीन लाइन पर ब्रिगेडियर होशियार सिंह, बहादुरगढ़ सिटी, श्रीराम शर्मा, टिकरी बॉर्डर, टिकरी कलां, घेवरा स्टेशन के एंट्री और एग्जिट गेट को बंद कर दिया गया है।

'दिल्ली चलो' आंदोलन के तहत गुरुवार को पंजाब से चले किसानों का पंजाब-हरियाणा बॉर्डर पर पुलिस के साथ संघर्ष हुआ। दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर भी हालात तनावपूर्ण रहे। वहीं हरियाणा(Haryana) से आ रहे किसान भी दिल्ली की ओर बढ़ चुके हैं। किसान रोहतक में रोहतक-दिल्ली हाईवे पर इकट्ठा होना शुरू हो गए हैं। दूसरी ओर सोनीपत में भीकिसानों और पुलिस में तनाव बढ़ गया है, किसानों का एक जत्था पानीपत-सोनीपत बॉर्डर पहुंच गया। किसानों ने यहां भी बैरिकेडिंग को हटाना शुरू कर दिया।

दिल्ली-देहरादून हाईवे जाम करने का ऐलान
अब आज यूपी के किसान भी सड़कों पर उतरेंगे। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि यूपी का किसान सड़क पर उतरेगा। राकेश टिकैत के मुताबिक आज बहुत बड़ा प्रदर्शन होगा। राकेश ने कहा कि यूपी के किसान दिल्ली-देहरादून हाईवे को जाम करेंगे। 

दिल्ली की सीमा पर सुरक्षा कड़ी 
बता दें कि प्रदर्शन के कारण एनसीआर में पहले से ही मेट्रो सेवा बाधित है और नोएडा से दिल्ली मेट्रो नहीं जा पा रही है। वहीं दिल्ली-हरियाणा के सिंधु बॉर्डर पर भी किसानों का जमावड़ा लगने का आसार है। ऐसे में दिल्ली पुलिस ने बॉर्डर को सील कर दिया है, ताकि किसानों को दिल्ली आने से रोका जा सके। यहां बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात है।

पुलिस ने किया वाटर कैनन का इस्तेमाल
पंजाब और हरियाणा बॉर्डर पर शुक्रवार की सुबह भी हंगामेदार रही। यहां रातभर किसान डटे रहे और सुबह होते ही नारेबाजी करते हुए दिल्ली कूच की कोशिश की। लेकिन पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल कर किसानों को रोकने की कोशिश की। कृषि कानूनों के खिलाफ डटे किसान दिल्ली आने की जिद पर अड़े हुए हैं।

Related Tweets
Advertisement
Back to Top