पीएम मोदी का संबोधन : लापरवाही पर देशवासियों को चेताया, कहा- बेहद चिंताजनक है स्थिति

PM Narendra Modi Address Nation Live Updates - Sakshi Samachar

देश में वन नेशन-वन कार्ड व्यवस्था पर तेजी से हो रहा काम

देश के किसानों और ईमानदार टैक्स पेयर की वजह से गरीबों को मिल रहा राशन

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश की जनता को संबोधित किया। पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत अनलॉक 2 के दौरान सतर्क रहने से की। उन्होंने कहा कि हमें अनलॉक के दौरान और सावधान रहने की जरूरत है। अपने 16 मिनट के संबोधन में प्रधानमंत्री ने 'वन कार्ड वन नेशन' व्यवस्था लागू करने का जिक्र किया।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि हम आत्मनिर्भर भारत के लिए दिनरात एक करेंगे। हम सब लोकल के लिए वोकल होंगे। इसलिए हम सब देशवासियों को संकल्प के साथ काम करना है और आगे भी बढ़ना है।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के अंत में कोरोना वायरस से बचाव का संदेश देते हुए कहा कि दो गज की दूरी और मास्क का जरूर ख्याल रखें, इससे आप और आपका परिवार दोनों स्वस्थ्य रहेगा।

प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातें

कोरोना को लेकर अनलॉक-1 के बाद से लापरवाही बढ़ी है।

गांव का प्रधान हो या देश का प्रधानमंत्री, कानून से ऊपर कोई नहीं।

प्रधानमंत्री करीब कल्याण योजना का विस्तार नवंबर महीने तक किया गया।

80 करोड़ लोगों को 5 किलो गेहूं या चावल मिलेगा, यानी नवंबर तक मुफ्त आनाज मिलेगा।

पूरे देश में 'वन नेशन वन कार्ड' की व्यवस्था लागू की जाएगी, जिससे जरूरतमंदों को कहीं भी मुफ्त आनाज मिल सके।

यह भी पढ़ें : 

भारत के पहले कोविड-19 टीके को DCGI से मानव पर परीक्षण की अनुमति मिली  

नारा व प्रमोशन 'मेक इन इंडिया' का, पर जमकर खरीदते रहे चीन से सामान : राहुल गांधी

देश में कोविड-19 के प्रकोप के बीच प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम यह छठा संबोधन है। मोदी ने पिछली बार देश को 12 मई को संबोधित किया था जब उन्होंने अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के वित्तीय पैकेज की घोषणा की थी। रविवार को प्रसारित हुए ‘मन की बात' कार्यक्रम में मोदी ने कहा था कि भारत ने लद्दाख में अपनी भूमि पर बुरी नजर डालने वालों को मुंहतोड़ जवाब दिया है।

Advertisement
Back to Top