अयोध्या में 1400 गज में बनेगी नई मस्जिद, बाबरी जैसा होगा आकार

New Mosque To Be Built In Ayodhya Like Babri Masjid  - Sakshi Samachar

अयोध्या : उत्तर प्रदेश के अयोध्या में मस्जिद के लिए आवंटित जमीन पर निर्माण कार्य को आगे बढ़ाने के मकसद से उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने ‘इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन' नामक न्यास का गठन किया है। खबरों के मुताबिक, इस पांच एकड़ भूमि पर मस्जिद, अस्पताल, अनुसंसाधन केंद्र सहित कई जरूरी सुविधाएं विकसित करने का प्रस्ताव है। 

इस जमीन पर मस्जिद निर्माण के लिए जन सहयोग से धन जुटाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इस बाबत बोर्ड की ओर से गठित ट्रस्ट इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउण्डेशन को आयकर की धारा-80 जी व अन्य धाराओं में छूट व अन्य कार्यों के लिए जरूरी पैन (परमानेंट एकाउंट नम्बर) आवंटित हो गया है। अगले सप्ताह पैन के आधार पर ट्रस्ट का बैंक खाता खोला जाएगा।

इसके बाद जिन लोगों ने मस्जिद, अस्पताल व इण्डो-इस्लामिक रिसर्च सेण्टल आदि के लिए सहयोग करने का वादा किया है, उनसे आर्थिक सहयोग के लिए कहा जाएगा। एक सवाल के जवाब में अतहर हुसैन ने कहा कि अयोध्या में विवादित स्थल पर जितने क्षेत्रफल 1400 गज में मस्जिद थी, उतने ही क्षेत्रफल में उसी आकार में नई जगह पर मस्जिद का निर्माण करवाया जाएगा। इसके अलावा बाकी बचे स्थान पर एक बड़ा अस्पताल बनवाया जाएगा। ट्रस्ट के सचिव और प्रवक्ता अतहर हुसैन ने यह बात कही।  

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि ट्रस्ट का कार्यालय लखनऊ के हुसैनगंज इलाके में बर्लिंगटन चौराहा स्थित बर्लिंगटन स्क्वायर बिल्डिंग के चौथे तले पर 400 वर्गफुट का कार्यालय भवन ले लिया गया है। इस कार्यालय भवन में ट्रस्ट के नव मनोनीत 9 सदस्यों की सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखते हुए आमने-सामने बैठक होगी। बैठक में आगे की कार्ययोजना तय की जाएगी। वैसे यह ट्रस्ट कुल 15 सदस्यों का है, मगर अभी चेयरमैन को मिलाकर कुल 9 सदस्य ही मनोनीत हैं। 

आप को बता दें कि उच्चतम न्यायालय ने पिछले साल नौ नवंबर को अयोध्या मामले में फैसला सुनाते हुए विवादित स्थल पर राम मंदिर का निर्माण करने और मुस्लिम पक्ष को मस्जिद के निर्माण के लिए अयोध्या में किसी अन्य स्थान पर पांच एकड़ जमीन देने का आदेश दिया था। प्रशासन की ओर से अयोध्या जिले की सोहावल तहसील स्थित धन्नीपुर गांव में पांच एकड़ जमीन सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड को दी गई। 

वहीं, कांग्रेस के लोकसभा सदस्य अब्दुल खालिक ने शुक्रवार को कहा कि अयोध्या में मुस्लिम पक्ष को मस्जिद के लिए मिली जमीन पर अस्पताल का निर्माण होने पर वह अपना एक महीने का वेतन देंगे। असम की बरपेटा लोकसभा सीट से सांसद खालिक ने ट्वीट किया, ‘‘ सरकार की ओर से मस्जिद के लिए दी गई जमीन पर उप्र सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड की ओर से अस्पताल-सह-संग्रहालय बनाए जाने के लिए मैंने एक महीने का वेतन देने का फैसला किया है।'' 

Advertisement
Back to Top