मौलाना साद को क्राइम ब्रांच ने भेजा नोटिस, पूछे गए 26 सवाल

Maulana Saad was Asked 26 Questions by Delhi Crime Branch - Sakshi Samachar

साद ने दो दिन पहले जारी किया था ऑडियो

मरकज की पिछले 3 साल की इनकम टैक्स के डिटेल्स मांगे

दिल्ली : भारत में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों में आग में घी डालने वाले की भूमिका निभाने वाले राजधानी के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के अमीर मौलाना मोहम्मद साद को दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने नोटिस भेजा है।

मौलाना मोहम्मद साद की तलाश में पिछले दो दिनों से पुलि लगातार छापेमारी कर रही है और अब क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद को नोटिस जारी कर उससे 26 सवालों का जवाब मांगे है। आपको बता दें कि मौलाना साद ने दो दिन पहले अपना एक ऑडियो जारी कर बताया था कि वह आइसोलेशन में है।

क्राइम ब्रांच ने मरकज के प्रमुख को भेजे गए नोटिस में संगठन का विस्तृत पता और उसके पंजीकरण से जुड़ी जानकारी, संगठन से जुड़े सभी एम्पाइज का पता और मोबाइल नंबर तथा मरकज के प्रबंधन से ताल्लुक रखने वालों की डिटेल मांगी है। यही नहीं, यह भी पूछा गया कि कब से ये लोग मरकज से जुड़े हैं।

मुख्य सवालों में मरकज की पिछले 3 साल की इनकम टैक्स की डिटेल, पैन कार्ड नंबर, बैंक अकाउंट की डिटेल और एक साल की बैंक स्टेटमेंट्स मांगे गए। साथ ही जनवरी 2019 से अब तक मरकज में हुई सभी धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन के डिटेल्स मांगे गए हैं। क्राइम ब्रांच ने पूछा है कि क्या मरकज भवन में सीसी कैमरे लगे हैं और लगे हैं तो कहां-कहां लगे हैं। 

इसे भी पढ़ें : 

जामा मस्जिद से पुलिस पर हमला, दो पुलिस कर्मी घायल
  जमात के लोगों की देखभाल नहीं करेंगी नर्सें, कार्रवाई की तैयारी में योगी सरकार

यही नहीं, मरकज प्रमुख से पूछा गया है कि धार्मिक आयोजनों में लोगों की भीड़ जुटने से पहले क्या परमिशन पुलिस से या प्रशासन से मांगी गई या कभी मिली तो उसकी जानकारी और दस्तावेज मुहैया कराए गए थे।12 मार्च के बाद मरकज में आये सभी लोगों का पता, फोन नंबर सहित अन्य जरूरी जानकारी मांगी है, जिसमे विदेशी और भारतीय शामिल थे। 

क्राइम ब्रांच ने 12 मार्च 2020 के बाद मरकज में कौन-कौन आए थे और कितने लोग थे, जो बीमार थे और जिनको हॉस्पिटल ले जाया गया, उनकी पूरी जानकारी भी मांगी है। इस बीच, 30 मार्च से तबलीगी जमात ए मरकज का मौलाना साद फरार है।

Advertisement
Back to Top