UP सरकार ने विकास दुबे को बताया खूंखार गैंगस्टर, सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया जवाब

UP Government Filed Reply In Supreme Court Said- Vikas Dubey Was a 'Dreaded gangster' - Sakshi Samachar

विकास दुबे एनकांउटर में पुलिस की भूमिका पर दायर की गई है जनहित याचिका

यूपी सरकार ने विकास दुबे केस में दाखिल किया जवाब

बारिश और तेज रफ्तार की वजह से पलटी थी गाड़ी 

नई दिल्ली : यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में  गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर केस में हलफनामा दायर कर दिया है। कोर्ट में दायर हलफनामें  यूपी सरकार का कहना है कि इस पूरे केस की जांच के लिए आयोग का गठित कर दिया गया है। इसी हलफनामे में यूपी सरकार ने विकास दुबे एक 'खूंखार गैंगस्टर' बताया है। हलफनामे कहा गया है कि विकास एक खूंखार गैंगस्टर था जिसने बड़े ही बेरहमी से आठ पुलिसकर्मियों की हत्या की थी। एनकाउंटर को लेकर लोगों में कई तरह की गलत धारणा है।

कैसे पलटी थी एनकाउंटर के दौरान गाड़ी 
कोर्ट में दिए गए हलफनामे में योगी सरकार ने कहा कि बारिश और तेज गति के कारण गाड़ी पलटी। इस हादसे में  में गाड़ी में बैठे पुलिस वाले गंभीर रूप से घायल हो गए। विकास दुबे ने घायल कर्मियों में से एक से पिस्तौल छीन ली। उसे आत्मसमर्पण करने के लिए कहा गया, लेकिन उसने ऐसा करने से इनकार कर दिया और पुलिस पर गोलीबारी की।

बता दें विकास दुबे के एनकाउंटर पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि एनकाउंटर मामले में जांच के लिए हम कमेटी गठित करने पर सोच रहे है। इसके साथ ही कोर्ट ने एनकांउटर की सीबीआई या एसआईटी जांच कराने की याचिका पर सरकार से जवाब -तलब किया था। कोर्ट ने यूपी सरकार से गुरुवार तक जवाब मांगा था। जिस यूपी सरकार ने आज यानी शुक्रवार को इस मामले में कोर्ट के सामने अपना पक्ष रखा है। 

क्या है पूरा मामला ?
दरअसल विकास दुबे मामले को लेकर एक जनहित याचिका दायर की गई है। ये याचिका मुंबई के वकील घनश्याम उपाध्याय और वकील अनूप अवस्थी ने फाइल की है। पिटिशन में यूपी पुलिस की भूमिका की जांच की मांग की गई है। हालांकि याचिका मुठभेड़ से पहले देर रात दायर की गई थी, जिसमें विकास दुबे का भी एनकाउंटर किए जाने की आशंका जाहिर की गई थी। मामले की सुनवाई सोमवार को होगी.
 

Advertisement
Back to Top