आज तमिलनाडु और पुडुचेरी तट से टकराएगा चक्रवाती तूफान 'निवार', फ्लाइट्स कैंसिल, सार्वजनिक छुट्टी का ऐलान

Cyclone Nivar hit coastal areaTamilnadu Puducherry many flights cancell public holiday - Sakshi Samachar

जल्द ही विकराल रूप में दिखेगा चक्रवात 'निवार'

1200 बचावकर्मी हैं तैनात, अन्य 800 भी तैयार

पीएम मोदी का हर संभव मदद का आश्वासन

नई दिल्ली: बंगाल की खाड़ी (Bay Of Bengal) के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान 'निवार' (Cyclone Nivar) के विकराल रूप धरने की आशंका है। मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि तूफान बुधवार को तमिलनाडु (Tamilnadu) और पुडुचेरी (Puducherry) के तट से टकरा सकता है। विभाग ने कहा कि बुधवार को तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल (Karaikal) के ज्यादातर हिस्सों में बारिश हो सकती है। कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश (Rain) भी हो सकती है।

बुधवार को तमिलनाडु के शिक्षण संस्‍थानों में छुट्टी घोषित की गई है। चेन्‍नई हवाई अड्डे ने बयान जारी कर कहा कि चक्रवात निवार के कारण चेन्नई हवाई अड्डे से और आने वाली उड़ानें प्रभावित हो सकती हैं। अब तक, चेन्नई हवाई अड्डे से तीन उड़ानें रद हो गईं। हवाई अड्डे ने एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है जहां एयरलाइंस, राज्य प्रशासन और मेट विभाग सुचारू संचालन के लिए समन्वय कर रहे हैं। निवार चक्रवात से पहले चेन्नई में मंगलवार को भारी बारिश हुई है। इस कारण कई इलाकों में जलजमाव देखेने का मिल रहा है।

अधिकारियों ने बताया कि यहां चेम्बरमबक्कम समेत कई जलाशयों पर लगातार निगरानी रखी जा रही है और निचले स्थानों पर रहने वाले लोगों को सुरक्षित जगह पर ले जाया जा रहा है। बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पश्चिमी हिस्से के ऊपर निर्मित हुआ गहरे दबाव का क्षेत्र पश्चिम-उत्तर की ओर बढ़ा और चक्रवाती तूफान निवार में तब्दील हो गया।

जल्द ही विकराल रूप में दिखेगा चक्रवात 'निवार'

यह पुडुचेरी से 410 किलोमीटर और यहां से 450 किलोमीटर दूर स्थित है। अगले कुछ घंटे में चक्रवाती तूफान के और विकराल रूप धरने की आशंका है। अगले 12 घंटे में इसके पश्चिम-उत्तर की ओर बढ़ने और इसके बाद उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ने की प्रबल आशंका है।

एक बुलेटिन में बताया गया कि तूफान, 25 नवंबर की शाम को कराईकल और मामल्लापुरम के बीच तमिलनाडु और पुडुचेरी के तट से टकरा सकता है। इसके साथ ही 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से हवा चलने की आशंका है। मछुआरों को समुद्र में न जाने की पहले ही हिदायत कर दी गई है।

1200 बचावकर्मी हैं तैनात, अन्य 800 भी तैयार

तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी में निवार के मद्देनजर आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के करीब 1200 बचावकर्मियों को तैनात किया गया है। अन्य 800 को तैयार रखा गया है। एनडीआरएफ प्रमुख एस एन प्रधान ने कहा कि वे अत्यधिक तीव्रता वाले एवं सबसे भीषण चक्रवाती तूफान के लिए तैयार हैं। यह तूफान पश्चिम बंगाल से दक्षिणी तटरेखा की ओर बढ़ रहा है। उन्होंने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, हम इस पर करीब से नजर रख रहे हैं और प्रभावित राज्यों से समन्वय स्थापित कर रहे हैं।

प्रधान ने बताया कि तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी में कुल 22 दलों को पहले ही तैनात किया जा चुका है और आठ दलों को तैयार रखा गया है। उन्होंने कहा, इन 30 दलों में से 12 को तमिलनाडु, सात को आंध्र प्रदेश और तीन को पुडुचेरी में तैनात किया गया है।

पीएम मोदी का हर संभव मदद का आश्वासन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निवार चक्रवात के मद्देनजर उत्पन्न स्थिति के बारे में तमिलनाडु और पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्रियों से बात की है और उन्हें केंद्र की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। पीएम  मोदी ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी तथा पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणस्वामी के साथ निवार चक्रवात से उत्पन्न स्थिति पर भी बात की। उन्होंने दोनों राज्यों को केंद्र सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया।

इंडिगो ने रद्द की अपनी उड़ानें

चक्रवाती तूफान निवार को देखते हुए विमानन सेवा कंपनी इंडिगो ने दक्षिणी क्षेत्र, मुख्य रूप से चेन्नई के लिए सेवा बाधित रहेगी। इंडिगो ने अपने एक बयान में कहा है कि निवार को देखते हुए बुधवार के लिए निर्धारित 49 उड़ानों को रद्द किया गया है। हम स्थिति को देखेंगे फिर उसके बाद आगे के लिए फैसला करेंगे।

Advertisement
Back to Top