शादी में 250 से ज्यादा मेहमान बुलाने पर जाना पड़ सकता है जेल, रात 10 बजे तक खत्म करने होंगे फंक्शन

Covid-19 : Indore DM Releases New Guidelines For Wedding And Other Gatherings, Guest Limit Capped at 250 - Sakshi Samachar

इंदौर (मध्यप्रदेश)  कोविड-19 (Covid-19) की नयी लहर के जोर पकड़ने के बीच जिला प्रशासन ने शादियों में मेहमानों की तादाद 250 लोगों तक सीमित कर दी है, जबकि शवयात्राओं, अंतिम संस्कार (Funeral) और शोक सभाओं (Condolence Meetings)में ज्यादा से ज्यादा 50 व्यक्ति शामिल हो सकेंगे। जिलाधिकारी मनीष सिंह ने दण्ड प्रक्रिया संहिता (CRPC) की धारा 144 के तहत जारी आदेश के हवाले से सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बारात में बैंड-बाजे और रोशनी वालों के अलावा अधिकतम 50 लोग शामिल हो सकेंगे, जबकि जन्मदिन ओर शादी की सालगिरह के समारोहों में ज्यादा से ज्यादा 20 मेहमानों को बुलाया जा सकेगा। 

रात 10 बजे समाप्त करने होंगे कार्यक्रम
सिंह ने बताया कि आयोजकों को शादियों के साथ ही सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रमों को रात 10 बजे तक समाप्त करना होगा। जिलाधिकारी ने बताया कि इंदौर के शहरी इलाके तथा नजदीकी महू सैन्य छावनी क्षेत्र में सभी दुकानें, दफ्तर, व्यावसायिक संस्थान और रेस्तरां रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक अनिवार्य रूप से बंद रहेंगे। उन्होंने बताया कि मास्क नहीं पहनने वाले हर व्यक्ति को 100 रुपये का जुर्माना मौके पर ही अदा करना होगा, जबकि दुकानों और अन्य व्यावसायिक संस्थानों में कोविड-19 से बचाव के दिशा-निर्देशों के उल्लंघन पर 500 रुपये का अर्थदंड वसूला जाएगा।

आदेश ना मानने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई
जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 की रोकथाम के लिए जारी उनके आदेश का उल्लंघन भारतीय दण्ड विधान (आईपीसी) की धारा 188 (किसी सरकारी अफसर का हुक्म नहीं मानना) के तहत दण्डनीय अपराध की श्रेणी में आयेगा। अधिकारियों ने बताया कि आईपीसी की धारा 188 के तहत मुजरिम को छह महीने तक के कारावास या 1,000 रुपये तक के जुर्माने या दोनों सजाएं सुनाई जा सकती हैं। गौरतलब है कि इंदौर, राज्य में कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है। 

इंदौर में है कुल 98,247 मरीज
आधिकारिक जानकारी के मुताबिक करीब 35 लाख की आबादी वाले जिले में 24 मार्च से लेकर 22 नवंबर तक महामारी के कुल 38,247 मरीज मिले हैं। इनमें से 735 मरीजों की मौत हो चुकी है। 

Advertisement
Back to Top