कोरोना अपडेट : देश में तेजी से बढ़ रहे मरीज, पहली बार एक दिन में 6,000 से ज्यादा मामले

Coronavirus in India Updates on Saturday  - Sakshi Samachar

देश में 1,24,794 हुई मरीजों की संख्या

कोविड-19 से मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,726 हुई

इलाज के बाद 51,824 लोग अब पूरी तरह हुए स्वस्थ्य

नई दिल्ली : देश में पहली बार एक दिन में कोरोना वायरस से संक्रमण के 6,000 से ज्यादा मामले आने के साथ ही अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या करीब 1,24,794 पहुंच गई। वहीं सरकार का कहना है कि वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में 25 मार्च से लागू लॉकडाउन अत्यंत प्रभावी रहा है और यदि ऐसा नहीं किया गया होता तो अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या 30 लाख तक पहुंच गई होती। 

इस बीच आरबीआई का कहना है कि शुरुआती दिनों में कोविड-19 महामारी के कारण अर्थव्यवस्था को होने वाले नुकसान का जो आकलन किया गया था उसके मुकाबले इसका प्रभाव बहुत व्यापक और गंभीर हुआ है। गौरतलब है कि चीन में दिसंबर में कोविड-19 का पहला मामले आने के बाद से दुनिया भर में 51.3 लाख लोग इस जानलेवा वायरस से संक्रमित हुए हैं जबकि करीब 3.3 लाख लोग की संक्रमण से मौत हुई है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, देश में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,726 हो गई है जबकि संक्रमण के 6,088 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1,24,794 हो गई है। मंत्रालय ने बताया कि देश में 69,244 संक्रमित लोगों का उपचार चल रहा है, संक्रमित हुए 51,824 लोग अब स्वस्थ हो गए हैं और एक मरीज विदेश चला गया है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अभी तक कोविड-19 के 48 हजार 534 व्यक्ति संक्रमण मुक्त हो चुके हैं जो कुल मामलों का करीब 41 फीसदी है। उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में 3234 रोगी उपचार के बाद संक्रमण मुक्त हुए हैं। अग्रवाल ने बताया कि कोविड-19 के कारण मृत्यु दर 19 मई को 3.13 फीसदी से कम होकर 3.02 फीसदी हो गई है क्योंकि अब ध्यान इसे रोके जाने के उपायों और मामलों के क्लीनिक प्रबंधन पर है। 

यह भी पढ़ें : 

राहत पैकेज नहीं मिलने पर ट्रांसपोर्टरों ने दी चक्का जाम की चेतावनी

एम्स के डॉक्टरों की पहल, कोरोना संक्रमित शव में कितने घंटे जीवित रहता है वायरस, करेंगे रिसर्च 

अधिकारी ने बताया कि पिछले चार दिनों में हर दिन कोविड-19 के एक लाख से अधिक जांच किए गए हैं। वी. के. पॉल ने कहा कि कोरोना वायरस के मामलों में चार अप्रैल से काफी कमी आई है, जब लॉकडाउन के कारण मामलों की संख्या में बढ़ोतरी पर लगाम लगी। पॉल ने कहा कि भारत में कोविड-19 के मामले कुछ क्षेत्रों तक ही सीमित रहे और 80 फीसदी सक्रिय मामले सिर्फ पांच राज्यों में हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से मौत के करीब 80 फीसदी मामले महाराष्ट्र, गुजरात, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल और दिल्ली में रहे हैं। 

Advertisement
Back to Top