BJP चार दशक- चालीस उपलब्धियां

BJP completes 40 years of its establishment  - Sakshi Samachar

6 अप्रैल को बीजेपी का स्थापना दिवस

बीजेपी ने पूरा किया चार दशकों का सफर

चालीस सालों में बीजेपी ने किये कई अहम कार्य

एक पौधे से वटवृक्ष बनने तक का सफर

6 अप्रैल एक ऐसी तारीख है जो आधुनिक भारत के इतिहास में  खास मायने रखती है।  यही वो तारीख है जब एक  विचारधारा का सूत्रपात एक ऐसी पार्टी के रूप में हुआ,  आज एक वट वृक्ष की तरह जिसकी शाखाएं काफी गहरी हो चलीं है। यह पार्टी अपने आप में खास इस लिये भी है कि यह पार्टी दुनिया भर में  सबसे ज्यादा सदस्यों वाली राजनीतिक पार्टी बन चुकी है। जी हां हम बात कर रहे हैं बीजेपी यानी भारतीय जनता पार्टी की । सोमवार 6 अप्रैल को बीजेपी अपना स्थापना दिवस मना रही है। 

अटल जी ने दी पार्टी को धार

6 अप्रैल 1980 को शुरू हुआ पार्टी का सफर आज उस मुकाम पर पहुंच चुका है जब पार्टी का कोई भी कार्यकर्ता इसका सदस्य कहलाने में गौरव का अनुभव करता है। यहां तक पहुंचने के पीछे इससे जुड़े नेताओं की कर्मठता और मजबूत इच्छा शक्ति छिपी हुई है। 6 अप्रैल को जब पार्टी ने अपने गठन के साथ अपने सफर की शुरुआत की थी तब बीजेपी के पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी बने थे। 

केवल दो सीटों पर किया संतोष
पहले लोकसभा चुनाव में पार्टी को अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में केवल दो सींटे ही मिली ।  लेकिन पार्टी के नेताओं ने हार नहीं मानी और अपनी अलग विचार धारा के साथ अपना संघर्ष जारी रखा । जिसके बाद 1991 में बीजेपी के खाते में 120 सीटें गिरीं । जिसके बाद 1996 में 161 सीटों तक बीजेपी अपने अथक प्रयासों से पहुंची । जिसके बाद साल 2014 में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत की सरकार बना ली। इस बार बीजेपी ने पूर्ण बहुमत की सरकार 282 सीटों के साथ बनाई। अटल बिहारी वाजपेयी जैसे मजबूत इच्छा शक्ति के नेतृत्व में शुरू हुई बीजेपी अब नरेन्द्र मोदी जैसे प्रधानमंत्री के नेतृत्व में लगातार मजबूत होती जा रही है।आइये बीजेपी के इन चालीस सालों के सफरनामे में बीजेपी सरकार की चालीस उपलब्धियों पर एक नजर डालते हैं। 

चार दशकों में चालीस उपलब्धियों पर एक नजर :

भारत को सड़कों के माध्यम से जोड़ने की योजना 
प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में चतुर्भुज सड़क योजना स्टार्ट की गयी  इसके माध्यम से चेन्नई, कोलकाता, मुंबई और दिल्ली को जोड़ा गया । 

प्रधानमंत्री  ग्रामीण सड़क योजना 
इस योजना के द्वारा देश के ग्रामीण अंचलों को नगरों को जोड़ने का काम शुरू कियान गया,  जिससे देश के विकास को लगातार गति मिली है । 

निजीकरण और विनिवेश को प्रोत्साहन 
साल 1999 में विनिवेश मंत्रालय का गठन किया गया, साथ ही विनिवेश और निजीकरण को बढ़ावा दिया गया , जिससे देश को विकास की गति मिल सकी।  

सर्व शिक्षा अभियान
देश में बच्चों को मुफ्त शिक्षा देने की शुरुआत सर्व शिक्षा अभियान के तहत  अटल बिहाही वाजपेयी के कार्यकाल में ही शुरू हुई । जो आज भी अनवरत जारी है। छह से 14 साल के बच्चों को शिक्षा के लिये प्रोत्साहित किया गया ।

संचार क्रांति के दूसरे चरण की शुरुआत
हांलाकि देश में संचार क्रांति का श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को दिया जाता है। लेकिन इसे आम आदमी तक पहुंचाने का श्रेय अटल बिहारी वाजपेयी को ही जाता है। वाजपेयी सरकार ने भारत संचार निगम लिमिटेड के एकाधिपत्य को खत्म कर नई टेलीकॉम नीति लागू की । 

पोखरण का परमाणु परीक्षण
अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में भारत ने पोखरण में परमाणु परीक्षण किया । हांला कि उनके इस निर्णय के बाद उनकी आलोचना भी खूब हुई थी। क्यो कि उसके बाद पाकिस्तान ने भी परमाणु परीक्षण किया । 

पोटा क़ानून
संसद पर आतंकवादी हमले के बाद वाजपेयी सरकार ने पोटा कानून पास किया । ये कानून टाडा कानून से ज्यादा कड़ा कानून  था । हांलाकि इस कानून की भी काफी आलोचना हुई थी। साल दो हजार चार में यूपीए सरकार ने इस कानून को निरस्त कर दिया । 

संविधान समीक्षा आयोग की स्थापना 
अटल बिहारी सरकार ने 1 फरवरी 2000 को संविधान समीक्षा राष्ट्रीय आयोग का गठन किया। इसका उद्देश्य संविधान सशोधन की जरूरत पर विचार करने के लिये किया था 

स्वच्छ भारत अभियान 
स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश में 9 करोड़ से ज्यादा शौचालयों का निर्माण किया गया । जिससे ग्रामीण स्वच्छता में काफी सुधार हुआ है। जो कि साल 2014 से पहले 40 फीसदी कम था 

उज्ज्वला योजना
उज्ज्वला योजना के अंतर्गत मोदी सरकार ने  अब तक 6 करोड़ से ज्यादा गैस कनेक्शन दिए । इसके पहले देश में केवल साल  2014 तक देश में केवल 12 करोड़ गैस कनेक्शन ही थे ।

 प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना
प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना  के अंतर्गत मोदी सरकार ने देश भर में  जन औषधि केन्द्र खोले  हैं. इन केन्द्रों में 700 से ज्यादा दवाइयां बहुत कम कीमत पर प्रदान की जाती हैं 

 प्रधानमंत्री जन-आरोग्य अभियान
 "प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान" के अंतर्गत मोदी सरकार ने देश के 50 करोड़ गरीबों के लिए  हर परिवार पर प्रतिवर्ष 5 लाख रुपए तक के इलाज खर्च की व्यवस्था की ।इस योजना के अंतर्गत  10 लाख से ज्यादा गरीबों का इलाज किया जा चुका है । 

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना
 "प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना" के अंतर्गत मोदी सरकार ने सिर्फ 1 रुपया महीना के प्रीमियम पर  बीमा की सुविधा दी, तो वहीं  90 पैसे प्रतिदिन के प्रीमियम पर "प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना" से लोगों को सुरक्षा बीमा प्रदान किया। 

देश के विभिन्न इलाकों में नये AIIMS की स्थापना
 जम्मू-कश्मीर के पुलवामा से लेकर तमिलनाडु के मदुरै तक और असम के कामरूप से लेकर गुजरात के राजकोट तक नए एम्स बनाए जा रहे हैं ।

गांव- गांव तक चिकित्सा सुविधा पहुंचाने का कार्य
देश के कोने-कोने तक लोगों को चिकित्सा की सुविधा मुहैया कराने की दिशा में कार्य किया गया , मेडिकल की पढाई में नई सीटों का इजाफा किया गया ।

गांव-गांव तक पहुंची  बिजली 
‘प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना’ के अंतर्गत गांव-गांव को रोशन किया गया है। करीब ढाई करोड़ घरों तक बिजली की सुविधा दी गयी है। 

ग्रामीण आवास योजना
सरकार की ग्रामीण आवास योजनाओं के अंतर्गत 1 करोड़ 30 लाख से ज्यादा आवास तैयार किये गये ।  इसके पहले यह आंकड़ा करीब 24 लाख ही था । 

मानव-रहित रेलवे क्रॉसिंग्स खत्म हुईं
दे
श में मानव-रहित क्रॉसिंग्स की को खत्म करने की प्रक्रिया शुरू की गयी। जो कि पूरे देश में करीब करीब खत्म हो चुकी है। 

तीन तलाक बिल 
मुस्लिम महिलाओं की नरकीय  जिंदगी को सुधारने के लिये बीजेपी ने तीन तलाका बिल पास कराया। यह एक बड़ी उपलब्धि है, सरकार के इस फैसले के बाद मुस्लिम महिलाओं ने बीजेपी सराकर की जमकर सराहना की ।

नाबालिग को यौन शोषण से सुरक्षा
देश में लगातार हो रहे यौन शोषण की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिये बीजेपी सरकार ने दोषी सिद्ध हुए व्यक्ति को फांसी सजा का प्रावधान किया है। जिससे ऐसे घृणित अपराध करने वालों पर लगाम लगी है। 

गरीबों को आरक्षण 
बीजेपी सरकार ने 103 वें संशोधन पारित कर के गरीबों को आरक्षण की दिशा में महत्वपूर्ण काम किया है । जिससे देश के गरीब भी मुख्यधारा में शामिल हो सकें । 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना
देश के नौजवानों को रोजगारपरक बनाने के लिये प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अन्तर्गतत  बिना किसी गांरंटी के ऋण  मुहैया कराया जा रहा है। करीब 14 करोण से ज्यादा लोगों  ने इसका लाभ उठाया है। 

 दीन दयाल अंत्योदय योजना
 दीन दयाल अंत्योदय योजना  के अन्तर्ग देश की 6 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को स्वयं सहायता समूहों से जोड़ा गया है और उन्हे रोजगार परक बनाया गया है।  

मैटरनिटी लीव
देश में नौकरी करने वाली महिलाओं को मैटनिटी लीव की सुविधा को बढ़ा दिया गया है । अब यह सुविधा 12 सप्ताह से बढा कर 26 सप्ताह कर दी गयी है। 

देश में नये शिक्षण संस्थानों की स्थापना
देश में उच्च शिक्षा की दिशा में कदम उठाते हुए  बीजेपी सरकार  नये शिक्षण संस्थानों की स्थापना की दिशा में कार्य कर रही है। जिसके अंतर्गत ट्रिपल आईटी, आईआईटी , आईआईएम, एनआईटी जैसे संस्थानों की स्थापना की गयी है, और यह कार्य उत्तरोत्तर जारी है। 

न्यूनतम समर्थन मूल्य को बढ़ाने की दिशा में कार्य
बीजेपी सरकार ने देश में कृषकों की आय बढाने की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य किया है। सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य को बढ़ा कर डेढ गुना से ज्यादा कर दिया गया । 

ग्राम पंचायतों तक डिजिटल कनेक्टिविटी की सुविधा
बीजेपी सरकार ने ने देश की ग्राम पंचायतों को डिजिटल कनेक्टिविटी की सुविधा प्रदान करने में अहम काम किया है। करीब 1 लाख 15 हजार ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फायबर से जोड़ा गया । इसके साथ ही एक हजार से अधिक ग्राम पंचायतों को वाय-फाय की सुविधा दी गयी है। 

जनधन योजना
बीजेपी सरकार ने जनधन योजना से  देश में करीब 30 करोड़ बैंक खाते खोले गये हैं। देश गांव-गांव तक ये योजना पहुंची है, विशेष कर ग्रामीणों और महिलाओं को इस सुविधा का विशेष लाभ मिला है। इस योजना से जनधन खाते में 80हजार करोड़ रुपये जमा हैं।  लोगों में बचत करने की प्रवृत्ति को बढ़ावा मिला है। 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस
पीएम मोदी की पहल पर संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के तौर पर घोषित किया है। आज योग को अंतरराष्ट्रीय जगत में अलग पहचान मिली है 
 
नोटबंदी 
देश में काले धन और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिये मोदी सरकार ने नोटबंदी का फैसला लिया। इस फैसले से जो धन अर्थव्यवस्था से बाहर था उसे भी जोड़ा गया। 

प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्डरिंग एक्ट
इस योजना के तहत बीजेपी सरकार ने आर्थिक अपराध पर लगाम लगाने की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य किया है। इस कानून के माध्यम से 45 हजार करोड़ रुपये से अधिक संपत्ति पर सरकार की नजर है और कार्रवाई हो रही है।  

नमामि गंगे मिशन
बीजेपी सरकार ने नमामि गंगे मिशन योजना के अंतर्गत 25 हजार पांच सौ करोड़ रुपये की परियोजनाओं को अनुमति दी । गंगा में प्रदूषण को कम करने की दिशा में मोदी सरकार का ये अहम प्रयास है। इसके तहत औद्योगिक कचरे को गंगा में गिरने से रोकना है।

इसे भी जरूर देखें...

भाजपा के 40 साल के सफर में रहा है इन 40 नेताओं का अहम योगदान

अटल-आडवाणी-जोशी वाली भाजपा से मोदी-शाह-नड्डा की भाजपा तक का सफरनामा

वन रैंक वन पेंशन
बीजेपी सरकार ने करीबव चार दशकों से चली आ रही पेंडिग वन रैंक वन पेंशन की मांग को पूरा किया । इसके साथ ही 20 लाख पूर्व-सैनिकों को एरियर का भुगतान भी किया ।

उड़ान योजना 
उड़ान योजना भी बीजेपी सरकार की बेहद अहम योजना है। इसके द्वारा मध्यम वर्ग और निम्न मध्यम वर्ग को  कम कीमत पर हवाई यात्रा की सुविधा मिल रही है। अभी इस दिशा में कई अन्य नगरों को भी हवाई यात्रा की सस्ती उड़ान से जोड़ने की योजना है।  

कश्‍मीर और अनुच्‍छेद 370
जम्मू एवं कश्मीर पर मोदी सरकार ने अहम और साहसिक फैसला लिया है। इस फैसले को लेने में पिछली सरकारों के पसीने छूट रहे थे । लगता था कि कभी भी ये फैसला नहीं लिया जा सकता है। जम्मू एवं कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के कई महत्वपूर्ण प्रावधानों को खत्म किया और इसे दो केन्द्र शासित प्रदेशों जम्मू- कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया है। 

सर्जिकल स्ट्राइक
देश की सीमा पर आतंकी घटनाओं पर लगाम लगाने की दिशा में अहम उपलब्ध हासिल की है। भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक कर के दुश्मन देश और आतंकी घटनाओं को अंजाम देने वालों को मजबूत संदेश दिया है कि भारत कमजोर देश नहीं है, और ऐसा मंसूबा पालने वाले कभी भी सफल नहीं हो पाएंगे। 

NIA को बनाया मजबूत
आतंक घटनाओं पर लगाम लगाने की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य किया गया। संसद से यूएपीए यानी गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम संशोधन विधेयक को दोनों सदनों से पास कराया गया। इस कानून के अंतर्गत राष्ट्रीय जांच एजेंसी को अधिक शक्ति प्रदान की गयी । 

चंद्रयान- दो 
मिशन चंद्रयान बीजेपी सरकार की बड़ी उपलब्धियों मे से एक है। इसरो के प्रयास से इसे लॉन्च किया गया है,  बीजेपी इसे भी अपनी सरकार की बड़ी उपलब्धियों में गिनती है।  मोदी सरकार के सौ दिन पूरे होने के समय ही मोदी सरकार को ये उपलब्धि हासिल हुई। 

नागरिक संशोधन कानून 
बीजेपी सरकार ने देश में नागरिक संशोधन कानून लागू कर दिया । यह बीजेपी सरकार का एक साहसिक फैसला है , इस कानून के अंतर्गत  श्रीलंका को छोड़ भारत के अन्य पड़ोसी देशों  में  6 अल्पसंख्यक धर्मों के लोगों को (मुस्लिम धर्म के लोगों को छोड़ कर ) अन्य धर्मों के लोगों को भारतीय नागरिकता देने का प्रावधान किया गया है।  

इसे भी पढ़ें  :

BJP Foundation Day : ऐसे बदलता व बढ़ता जा रहा है भाजपा का स्वरूप, इनको दिया जा रहा 'श्रेय'

#9pm9minute :कोरोना के खिलाफ एकजुट हुआ पूरा देश, जलाए दीये कैंडिल और टॉर्च​

 एनआरसी 
 एनआरसी को असम में लागू किया गया है। यह अभी केवल राज्य विशेष में लागू किया गया है, इसके अंतर्गत राज्य से अवैध अप्रवासियों को वापस भेजने का जिक्र किया गया है। असम के अलावा यह किसी अन्य राज्य में अमल में नहीं है। हांलाकि बीजेपी सरकार के इस फैसले का देश में काफी विरोध किया जा रहा है।

--- विमल कुमार श्रीवास्तव, सीनियर सब एडिटर, साक्षी समाचार

Advertisement
Back to Top