बिकरु कांड : विकास दुबे के दो और साथियों ने कोर्ट में किया सरेंडर, सिर पर था 50-50 हजार का इनाम

Bikru Case: Shivam Dubey and Vishnu Pal Surrendered in front of special judge court - Sakshi Samachar

कानपुर : सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या की घटना बिकरु कांड में ज्यों-ज्यों पुलिस की जांच बढ़ रही है, त्यों-त्यों कांड के अभियुक्तों में पुलिस एनकांउटर का भय सता रहा है। इसी के चलते इन दिनों घटना से जुड़े आरोपित बराबर सरेंडर कर रहे हैं और बुधवार को भी दो आरोपित शिवम दुबे और विष्णु पाल ने स्पेशल जज एंटी डकैती कोर्ट में सरेंडर कर दिया। दोनों पर पुलिस ने 50-50 हजार रुपये का इनाम रख रखा था और पुलिस को चकमा देकर वकील के भेष में कोर्ट में सरेंडर कर दिये। दोनों पर भी विकास दुबे के साथ पुलिस पर गोली चलाने का आरोप है।

आठ पुलिसकर्मियों की हत्या

बताते चलें कि मंगलवार को भी एक आरोपी धर्मेन्द्र कुमार दुबे उर्फ हीरु दुबे ने पुलिस को चकमा देकर कोर्ट में सरेंडर किया था। चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरु गांव में दो जुलाई की रात दबिश देने गयी पुलिस टीम पर हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे और उसके गुर्गों ने टीम पर जबरदस्त फायरिंग कर दी थी। घटना में सीओ देवेन्द्र मिश्रा समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या की गयी थी।

इस मामले में पुलिस को अभी पुलिस मुठभेड़ में मारा गया विकास दुबे के कई साथियों की तलाश है। घटना में शामिल रहे बदमाशों पर ईनाम भी घोषित किया गया है, लेकिन विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद आरोपित एक-एक कर पुलिस को चकमा देकर कोर्ट में सरेंडर कर रहे हैं। सोमवार को 25 हजार के ईनामी गोविंद सैनी ने कोर्ट में सरेंडर किया था, मंगलवार को 50 हजार के ईनामी धमेन्द्र कुमार दुबे उर्फ हीरु ने स्पेशल जज एंटी डकैती की कोर्ट में सरेंडर कर दिया था।

इसे भी पढ़ें : 

टॉयलेट में पुलिस वालों के शव जलाना चाहता था विकास दुबे, गुर्गे ने किया चौंकाने वाला खुलासा

अब बुधवार को शिवम दुबे और विष्णु पाल ने भेष बदलकर कोर्ट में सरेंडर कर दिये। दोनों पर भी विकास के साथ मिलकर पुलिसकर्मियों पर गोलियां बरसाने का आरोप है और पुलिस ने 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। दोनों की तलाश में भी पुलिस की कई टीमें लगीं थीं। सरेंडर के बाद कोर्ट ने दोनों को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेज दिया। डीजीसी क्रिमिनल राजू पोरवाल ने शिवम दुबे और विष्णु पाल के सरेंडर करने की पुष्टि की।

Advertisement
Back to Top