मौसम विभाग की चेतावनी : देश के इन इलाकों में होगा अम्फान तूफान का असर, बरपेगा गर्म हवाओं का कहर

Be Alert : The impact of the Amphan Cyclone will be in these areas of the country, hot winds will wreak havoc - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : भारत के मौसम विभाग ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश और राजस्थान के लिए सोमवार तक गर्म हवाओं की स्थिति का अनुमान लगाया है, जबकि मध्य प्रदेश, विदर्भ और तेलंगाना में यह स्थिति एक दिन कम रहेगी।

विभाग ने यह भी कहा कि तटीय आंध्र प्रदेश और पुदुचेरी के यानम, उत्तर आंतरिक कर्नाटक और तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में शनिवार तक गर्मी की लहर जारी रहेगी। मौसम विभाग ने कहा कि शुक्रवार की सुबह तक सुपर साइक्लोनिक तूफान अम्फान के कारण बना गहरा दबाव, उत्तरी बांग्लादेश और पड़ोस के कम दबाव वाले क्षेत्र में कमजोर हो गया।

चक्रवात ने पश्चिम बंगाल की राजधानी और अन्य स्थानों पर तबाही मचाई। इससे भारत और बांग्लादेश में कम से कम 84 लोगों की मौत हो गई। अम्फान ने बुधवार को कोलकाता में भयंकर हवा और बारिश के साथ तटीय क्षेत्रों को डुबो दिया। आईएमडी ने कहा, "इसके उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने और अगले 12 घंटों के दौरान कम दबाव के क्षेत्र में कमजोर पड़ने की संभावना है।"

शुक्रवार को, अपने सुबह के बुलेटिन में विभाग ने चेतावनी दी कि असम और मेघालय समेत पश्चिम असम में अधिकतर स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा देख सकते हैं। वहीं, अगले छह घंटों के दौरान मेघालय में कुछ अलग स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है।

अरुणाचल प्रदेश में, अगले छह घंटों के दौरान अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। विभाग ने यह भी कहा कि अगले छह घंटों के दौरान पश्चिमी असम और पश्चिमी मेघालय में हवा की गति धीरे-धीरे कम हो जाएगी।

यह भी पढें : कोरोना मामलों को लेकर इटली ने ली राहत की सांस, तीन महीनों बाद सं​क्रमितों की संख्या में कमी​

विभाग ने अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम के अलावा गंगीय पश्चिम बंगाल, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, केरल, बिहार, आंध्र प्रदेश के रायलसीमा और तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों पर बारिश और गरज के साथ बारिश होने का अनुमान लगाया है।

जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगिट-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद के कई स्थानों पर गुरुवार को अधिकतम तापमान सामान्य से 3.1 डिग्री सेल्सियस से 5 डिग्री सेल्सियस अधिक था। वहीं, हिमाचल प्रदेश, सौराष्ट्र, कच्छ, तटीय आंध्र प्रदेश और यानम में कुछ स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया गया।

गुरुवार को विजयवाड़ा में सबसे अधिक अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। विभाग के अनुसार, ओडिशा के अंगुल में न्यूनतम तापमान 18.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

-आईएएनएस
यह भी पढें : 
एम्स के डॉक्टरों की पहल, कोरोना संक्रमित शव में कितने घंटे जीवित रहता है वायरस, करेंगे रिसर्च​

Advertisement
Back to Top