‘ब्राह्मण हूं, एनकाउंटर हो जाएगा’ कहने वाले बाहुबली MLA विजय मिश्र गिरफ्तार, MLC पत्नी भी हैं लापता

Bahubali Mla Vijay Mishra Arrested From Madhya Pradesh  - Sakshi Samachar

भदोही से विधायक विजय मिश्रा को एमपी पुलिस ने किया अरेस्ट

विधायक की एमएलसी पत्नी रामलली भी हुई लापता

भदोही :  उत्तर प्रदेश के ज्ञानपुर से बाहुबली  विधायक विजय मिश्र को मध्य प्रदेश के मालवा से पुलिस ने हिरासत में लिया है। मध्यप्रदेश पुलिस ने यह गिरफ्तारी भदोही पुलिस की सूचना पर पर की है। इस बात की पुष्टि भदोही जिले के एसएसपी राबदन सिंह ने की है। उन्होंने इस बात की जानकारी दी है कि विजय मिश्रा को यूपी लाने के लिए भदोही पुलिस की टीम रवाना हो गई है। बता दें कि  हाल में ही विजय मिश्र ने एक वीडियो जारी करके एनकाउंटर होने की आशंका जताई थी।

रिश्तेदार ने लगाया था आरोप
दरअसल, विधायक विजय मिश्र उनके रिश्तेदार कृष्णमोहन तिवारी ने केस दर्ज कराया था। उन्होंने इस केस में  उनकी पत्नी और एमएलसी रामलली मिश्र और उनके कारोबारी पुत्र विष्णु मिश्र पर आरोप लगाया था कि इन तीनों उनके साथ मारपीट कर और संपत्ति हड़पने की कोशिश की है। भदोही पुलिस ने यह केस बीते  8 अगस्त को तीनों के खिलाफ मुकदमा रजिस्टर्ड किया था और हाल ही में विधायक विजय मिश्र पर गुंडा एक्ट लगा था।

पत्नी भी हुई लापता
रिपोर्ट्स की मानें तो विधायक मिश्रा की पत्नी रामलली मिश्रा भी गुपचुप तरीके से गुरूवार को लापता हो गई है।  बता दें कि एमएलसी रामलली मिश्रा  को प्रयागराज के जार्जटाउन इलाके मे थी। एमएलसी के गनर ने इसकी सूचना मिर्जापुर पुलिस को दी। एसपी को मामले से अवगत कराने के साथ ही तत्काल प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया गया। उनकी पत्नी मिर्जापुर सोनभद्र क्षेत्र से एमएलसी यानी विधानपरिषद की सदस्य हैं। 

पुलिस कभी भी करा सकती है एनकांउटर
मुकदमा दर्ज होने के बाद विधायक विजय मिश्र गायब हो गए थे। इस बीच विजय मिश्र ने एक वीडियो जारी कर कहा कि ब्राह्मण होने के नाते उन्हें परेशान किया जा रहा है और पुलिस कभी भी उनका एनकाउंटर कर सकती है। उन्होंने कहा कि मेरी पत्नी रामलली और बेटे विष्णु को फर्जी मामले में फंसाया जा रहा है। विजय मिश्र ने आरोप लगाया कि ब्राह्मण होने के नाते उन्हें परेशान किया जा रहा है, क्योंकि वो ब्राह्मण होकर चार बार से विधायक हैं। उनके साथ ये सब इसलिए हो रहा है ताकि बनारस या चंदौली का कोई माफिया यहां आकर चुनाव लड़ सके। वो बलिया के किसी बेटे को चुनाव लड़ने की बात भी कर रहे हैं। इसीलिए उनकी हत्या कराई जा सकती है।

Advertisement
Back to Top